Raghuram Rajan On Rahul Gandhi: पप्पू नहीं हैं, RBI के पूर्व गवर्नर ने राहुल को बताया स्मार्ट राजनेता

Rahul smart politicians
creative common
अभिनय आकाश । Jan 19, 2023 12:25PM
दावोस में विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) के मौके पर उन्होंने इंडिया टुडे को बताया कि मुझे लगता है कि ये छवि बनाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। मैंने कई मोर्चों पर उनके साथ बातचीत की है। वह (राहुल गांधी) किसी भी तरह से पप्पू नहीं हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन कांग्रेस नेता राहुल गांधी की तारीफ करते नजर आए हैं।  उन्होंने कहा कि राहुल गांधी की 'पप्पू' छवि  को "दुर्भाग्यपूर्ण" बताते हुए कहा कि वायनाड सांसद एक "चतुर व्यक्ति" हैं। दावोस में विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) के मौके पर उन्होंने इंडिया टुडे को बताया कि मुझे लगता है कि ये छवि बनाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। मैंने कई मोर्चों पर उनके साथ बातचीत की है। वह (राहुल गांधी) किसी भी तरह से पप्पू नहीं हैं... वह एक स्मार्ट, युवा, जिज्ञासु व्यक्ति हैं। राजन दिसंबर में राजस्थान में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा में भी शामिल हुए थे। 

इसे भी पढ़ें: Bharat Jodo Yatra: हिमाचल में बोले राहुल गांधी, देश में नफरत-हिंसा का माहौल, संसद में हमें बोलने नहीं दिया जाता

राजन ने कहा कि मुझे लगता है कि प्राथमिकताएं क्या हैं, बुनियादी जोखिम और उनका मूल्यांकन करने की क्षमता की अच्छी समझ होना महत्वपूर्ण है। मुझे लगता है कि राहुल गांधी ऐसा करने में पूरी तरह से सक्षम हैं। भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के बाद राजन ने कहा था कि 2023 भारतीय अर्थव्यवस्था के साथ-साथ बाकी दुनिया के लिए भी कठिन होगा और देश विकास के लिए आवश्यक "सुधार उत्पन्न करने" में विफल रहा।

इसे भी पढ़ें: महबूबा मुफ्ती ने भारत जोड़ो यात्रा का किया स्वागत, बोलीं- सांप्रदायिक राजनीति का सबसे ज्यादा खामियाजा जम्मू-कश्मीर को भुगतना पड़ा

उन्होंने यह भी कहा कि निम्न मध्यम वर्ग को ध्यान में रखते हुए नीतियां बनाई जानी चाहिए, जो कोरोनो वायरस महामारी के कारण सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं। राजन ने छोटे और मध्यम स्तर के उद्योगों के लिए अनुकूल वातावरण बनाने और टिकाऊ ऊर्जा के क्षेत्र में हरित क्रांति को बढ़ावा देने की भी वकालत की। आरबीआई के पूर्व गवर्नर ने कहा कि यह सोचना जल्दबाजी होगी कि जब वैश्विक आर्थिक विकास को प्रभावित करने की बात आती है तो भारत चीन की जगह ले लेगा।

अन्य न्यूज़