घर के अंदर पति, पत्नी और दो बच्चों का शव मिला, आत्महत्या या परिवार को किसी और ने उतारा मौत के घाट?

घर के अंदर पति, पत्नी और दो बच्चों का शव मिला, आत्महत्या या परिवार को किसी और ने उतारा मौत के घाट?

बाहरी उत्तर दिल्ली के समयपुर बादली में एक 30 वर्षीय व्यक्ति ने कथित तौर पर अपनी पत्नी और दो बच्चों को जहर देकर मार डाला और फिर आत्महत्या कर ली। मृतकों की पहचान अमित कुमार, उनकी पत्नी मिक्की (27) और उनकी छह साल की बेटी और तीन साल के बेटे के रूप में हुई है।

नयी दिल्ली। बाहरी उत्तर दिल्ली के समयपुर बादली में एक 30 वर्षीय व्यक्ति ने कथित तौर पर अपनी पत्नी और दो बच्चों को जहर देकर मार डाला और फिर आत्महत्या कर ली। मृतकों की पहचान अमित कुमार, उनकी पत्नी मिक्की (27) और उनकी छह साल की बेटी और तीन साल के बेटे के रूप में हुई है। पुलिस को कुमार की कार्रवाई के पीछे वैवाहिक मुद्दों का संदेह है। आखिर ये हत्या है या आत्म हत्या िसे लेकर अभी कोई भी जानकारी पुलिस ने साझा नहीं की है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा घटना का पता मंगलवार सुबह तब चला जब कुमार के भाई ने पुलिस को सूचित किया कि उसका भाई दरवाजा नहीं खोल रहा है। पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और दरवाजा तोड़कर उसके कमरे में दाखिल हुई।

इसे भी पढ़ें: CM शिवराज से की न्याय की मांग, सरकार को दी सामूहिक आत्महत्या करने की चेतावनी

 

समयपुर बादली में चार लोगों का मृत मिला

दिल्ली के समयपुर बादली इलाके में मंगलवार सुबह एक घर में दो बच्चों समेत एक ही परिवार के चार सदस्य मृत पाए गए। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि अमित कुमार (30), उनकी 25 वर्षीय पत्नी और छह साल की बेटी तथा तीन साल का बेटा घर में मृत पाए गए। पुलिस ने बताया कि मौत की वजह का पता अभी नहीं चल पाया है। हालांकि, पहली नजर में ऐसा लगता है कि कुमार ने अपनी पत्नी और बच्चों को जहर देने के बाद खुद को फांसी लगा ली। पुलिस ने बताया कि मौत के कारणों का पता पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने पर ही लगेगा।

इसे भी पढ़ें: थम नहीं रहा पंजाब का में जारी घमासान, अब चन्नी-सिद्धू आमने-सामने, दोनों को बुलाया गया दिल्ली

 

 घरेलू कलेश के कारण पति ने पूरे परिवार को उतारा मौत के घाट

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मामले की सभी पहलुओं से जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि अगर यह आत्महत्या का मामला है तो भी, इसकी जांच की जाएगी कि किन परिस्थितियों में परिवार को यह कदम उठाना पड़ा। उन्होंने बताया कि मकान में कुमार और उनके भाई का परिवार रहता था। कुमार के भतीजे ने सुबह उन्हें फांसी के फंदे से लटका हुआ देखा और पुलिस को सूचना दी। अधिकारी ने बताया कि कुमार और उसकी पत्नी के बीच का रिश्ता तनावपूर्ण था और दोनों में अक्सर झगड़ा होता था। कुमार की पत्नी कुछ महीने पहले उसे छोड़कर चली गई थी।

हत्या या आत्महत्या? पुलिस कर रही है जांच 

करीब दो सप्ताह पहले जब वह लौटी तब कुमार के परिजनों ने उससे पत्नी को स्वीकार करने और उसके साथ राजी-खुशी रहने को कहा। उन्होंने बताया कि सबकुछ सही चल रहा था, संयुक्त परिवार में सभी खुश थे। पुलिस के अनुसार, एक क्लिप फैक्टरी में काम करने वाले कुमार और उसकी पत्नी के बीच कुछ विवाद था। उन्होंने बताया कि हत्या सहित अन्य संबंधित धाराओं में समयपुर बादली थाने में मामला दर्ज कर आगे की जांच की जा रही है। गौरतलब है कि इससे पहले 2018 में उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक ही परिवार के 11 सदस्यों ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...