कांग्रेस में 'गोडसे'वाद की हुई शुरुआत! हिंदू महासभा के नेता की कमलनाथ ने कराई पार्टी में एंट्री

Hindu Mahasabha leader
अभिनय आकाश । Feb 25, 2021 2:35PM
ग्वालियर के वार्ड-44 से पार्षद बाबूलाल चौरसिया कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हो गए। बाबूलाल चौरसिया हिंदू महासभा के नेता हैं। बता दें कि बाबूलाल चौरसिया ने ग्वालियर में गोडसे की मूर्ति की पूजा कर हिंदू महासभा भवन की स्थापना की थी।

मध्य प्रदेश में निकाय चुनाव को लेकर उथल-पुथल शुरू हो गई है। वहीं प्रदेश से एक चौंकाने वाली खबर आई है। कांग्रेस ने निकाय चुनाव का एक वार्ड जीतने के लिए अपने सिद्धांतों की कुर्बानी दे दी। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक ऐसे शख्स को कांग्रेस की सदस्यता दिला दी जो नाथूराम गोडसे की पूजा कर चुका है। ग्वालियर के वार्ड-44 से पार्षद बाबूलाल चौरसिया कमलनाथ की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल हो गए। बाबूलाल चौरसिया हिंदू महासभा के नेता हैं। 

इसे भी पढ़ें: शिवराज सिंह चौहान का बयान, फिर से मध्य प्रदेश में नहीं लगाया जाएगा लॉकडाउन

बता दें कि बाबूलाल चौरसिया ने ग्वालियर में गोडसे की मूर्ति की पूजा कर हिंदू महासभा भवन की स्थापना की थी। जब बाबूलाल चौरसिया ने नाथूराम गोडसे की आरती उतारी थी तो कांग्रेस ने उन पर राजद्रोह का केस दर्ज करने की मांग की थी। मगर एक वार्ड जीतने के लिए कांग्रेस को अब बाबूलाल के दाग अच्छे लगने लगे।

वोट-नोट के लिए महात्मा गांधी का प्रयोग करती कांग्रेस

नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि गोडसे के पुजारी अब कांग्रेस की सवारी हैं।  कांग्रेस का चरित्र उजागर हो गया है। नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि महात्मा गांधी का प्रयोग कांग्रेस सिर्फ वोट और नोट के लिए करती है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़