सैंडल में GPS ट्रैकर लगा कर पहुंची एयरपोर्ट, पटना पुलिस ने रात भर की पूछताछ

airport
निधि अविनाश । Jan 30, 2022 4:19PM
सुरक्षा अधिकारियों ने एक महिला के हैंडबैग में एक सैंडल रखी हुई थी, जब जांच की गई तो महिला के सैंडल में जीपीएस ट्रैकर बरामद हुआ। महिला पटना से बेंगलुरू जा रही थी। सुरक्षा अधिकारियों ने जब महिला से पूछताछ करना शुरू किया तो उसने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया।

बिहार के जयप्रकाश नारायण इंटरनेशनल एयरपोर्ट पटना से हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। बता दें कि, एयरपोर्ट पर तैनात सुरक्षा एजेंसियों के जवानों ने एक युवती को गिरफ्तार किया है। आरोप बताया जा रहा है कि महिला सैंडल में जीपीएस ट्रैकर लगाकर सफर कर रही थी। इस घटना के बाद पूरे एयरपोर्ट में हंगामा मच गया और जांच एजंसियों ने मामले की जांच शुरू कर दी है। युवती से पूछताछ की गई है। लेकिन अभी तक किसी को समझ नहीं आ रहा है कि महिला ने सेंडल पर जीपीएस ट्रैकर कैसे और क्यों लगाया गया। इस खबर से पूरे एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी मच गई है। 

इसे भी पढ़ें: राज्य में अपराध पर रोक लगाने के लिए क्राइम से संबंधित एक पोर्टल किया जाएगा तैयार - गृह मंत्री

क्या है पूरा मामला

बता दें कि, सुरक्षा अधिकारियों ने एक महिला के हैंडबैग में एक सैंडल रखी हुई थी, जब जांच की गई तो महिला के सैंडल में जीपीएस ट्रैकर बरामद हुआ। महिला पटना से बेंगलुरू जा रही थी। सुरक्षा अधिकारियों ने जब महिला से पूछताछ करना शुरू किया तो उसने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। जिसके बाद सीआईएसएफ के अधिकारियों ने युवती से पूछताछ शुरू की और उसे गिरफ्त में ले लिया। इसके बाद सीआईएसएफ ने इसकी सारी जानकारी पटना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पटना पुलिस महिला को थाने ले गई जहां उससे पूछताछ की गई। पुलिस के मुताबिक, महिला पटना के सुल्तानगंज थाना क्षेत्र के शाहगंज इलाके की रहने वाली है और उसके पिता बेंगलुरु में बिजनेस करते हैं।  अपने पिता से मिलने के लिए महिला इंडिगो की फ्लाइट से बेंगलुरू जा रही थी। पुलिस इस बारे में अभी कुछ भी बोलने से बच रही है। वहीं जांच में पता चला है कि महिला का प्रेमी कई आपराधिक मामलों में रहा है। गौरतलब है कि हाल में खुफिया एजेंसियों ने बिहार के सीमावर्ती इलाकों में स्लीपर सेल के एक्टिव होने की खबर बिहार पुलिस को दी थी और अलर्ट लेटर जारी किया था।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़