श्री काशी विश्वनाथ मंदिर की बढ़ेगी भव्यता, स्वर्ण मंडित कराए जायेंगे गर्भगृह के दीवार।

श्री काशी विश्वनाथ मंदिर की बढ़ेगी भव्यता, स्वर्ण मंडित कराए जायेंगे गर्भगृह के दीवार।

मंदिर के बाहरी दीवारों को स्वर्ण मंडित कराने के कार्य में करीब 50 करोड़ रुपए के खर्च का अनुमान लगाया जा रहा है। कार्य को तेज गति से पूरा करने के लिए, स्वर्णकारी से जुड़े कारीगरों ने मंदिर में बांस-बल्ली बांध कर ने इसमें लगने वाले सोने का आकलन भी किया।

वाराणसी।श्री काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का लोकार्पण होने के बाद अब, द्वादश ज्योतिर्लिंगों में प्रधान विश्वनाथ मंदिर के गर्भ गृह की दीवारों को स्वर्ण अलंकृत कराया जायेगा। इससे मंदिर की भव्यता और भी कई गुना बढ़ जाएगी। बता दे की, मंदिर का शिखर पहले ही सोने का है, अब शिखर के नीचे की दीवारें भी स्वर्ण मंडित हो जाएंगी। इसके अलावा बैकुंठ महादेव मंदिर के शिखर को भी स्वर्ण मंडित कराया जाएगा। योजना के प्रस्ताव भी आना शुरू हो चुके है, और मंदिर प्रशासन ने भी गर्भगृह के भीतरी व बाहरी दीवारों की नाप-जोख लेने की शुरूआत कर दी है।

इसे भी पढ़ें: हर घर तक मतदाता पर्ची पहुंचाने के लिए 9 से 13 जनवरी तक चलेगा अभियान, कमिश्नर कार्यालय में आई पर्ची

मंदिर के बाहरी दीवारों को स्वर्ण मंडित कराने के कार्य में करीब 50 करोड़ रुपए के खर्च का अनुमान लगाया जा रहा है। कार्य को तेज गति से पूरा करने के लिए, स्वर्णकारी से जुड़े कारीगरों ने मंदिर में बांस-बल्ली बांध कर ने इसमें लगने वाले सोने का आकलन भी किया। माना जा रहा है कि, दिल्ली के एक बड़े स्वर्ण कारोबारी ने इसके परियोजना लिए पहल की है। लगभग एक दशक पहले भी, मंदिर के दीवारों को स्वर्ण मंडित कराने योजना बनाई गई थी।

पूर्व में बनाई गई योजना आईआईटी बीएचयू के विशेषज्ञों और सीबीआरआई, से कराए गए परीक्षण में भिन्नता को देखते हुए रोक दी गई थी। श्री काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास परिषद की बैठक में इस योजना को पारित किया गया था। परंतु गर्भगृह के दीवारों की भार वहन क्षमता परखने के बाद, शासन स्तर से इसपर रोक लगा दी गई थी। लेकिन हाल ही में लोकार्पित काशी विश्वनाथ कॉरिडोर परियोजना के तहत दीवारों को दुरुस्त कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के जन्मदिन पर, वाराणसी में कटा केक, गरीबों को बांटें गए फल

इस काम के तकनीकी पहलुओं की जांच लिए विशेषज्ञ कंपनी लगी हुई है। ऐसे में अब बाबा विश्वनाथ धाम के विस्तार व सुंदरीकरण के बाद, मंदिर प्रशासन गर्भगृह की दीवारों को स्वर्ण मंडित कराने को, मूर्त रूप देने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि, प्रोजेक्ट के लिए कई प्रस्ताव आए हैं, एवं अभी मंदिर के गर्भगृह को स्वर्ण मंडित करने के लिए सर्वे किए जा रहे है। मंडलायुक्त व श्री काशी विश्वनाथ मंदिर कार्यपालक समिति के अध्यक्ष दीपक अग्रवाल ने बताया कि, बाबा के गर्भगृह को स्वर्ण मंडित करने की प्रक्रिया तेज हो गई है, और जल्द ही मंदिर के गर्भगृह की आंतरिक और बाहरी दीवारों पर स्वर्ण परत मढ़ी जाएगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।