गुरुग्राम में चार हत्याएं: सिसकने की आवाज सुनने के बाद बहू पर फिर किया था 22 बार वार, नहीं कोई पछतावा

Gurgaon Murder Case Latest News know the all update
निधि अविनाश । Aug 27, 2021 5:39PM
अपने रोजाना के काम करने के बाद जब वह वापस घर लौटा तो उसे अपनी जख्मी बहू सुनीता औरकिराएदार की पत्नी अनामिका की सिसकने की आवाज सुनाई दी तोवह फिर से अपने हाथों में गंडासे को लेकर पहले बहू के कमरे में गया और उस पर22 बार वार किया जिसके बाद बहू की मौके पर ही मौत हो गई।

हरियाणा के गुरुग्राम में हुई सनसनीखेज वारदात के और बड़े खुलासे हुए है। रिटायर्ड फौजी द्वारा अपनी ही बहू और किराएदार की हत्या करने की घटना ने सबको हैरान कर दिया है। बता दें कि आरोपी राव राय सिंह ने एक साथ चार लोगों को मौत के घाट उतार दिया था और उसके बाद बड़े ही आराम से बाथरूम जाकर नहाया और कपड़े बदले। अपने रोजाना के काम करने के बाद जब वह वापस घर लौटा तो उसे अपनी जख्मी बहू सुनीता और किराएदार की पत्नी अनामिका की सिसकने की आवाज सुनाई दी तो वह फिर से अपने हाथों में गंडासे को लेकर पहले बहू के कमरे में गया और उस पर 22 बार वार किया जिसके बाद बहू की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं किराएदार की 3 साल की बेटी अभी भी आईसीयू में भर्ती है और हालत काफी नाजुक बनी हुई है। किराएदार कृष्ण और पत्नी अनामिका को भी गंडासे से ही मौत के घाट उतारा और उनकी बड़ी बेटी पर राव सिंह ने 16 बार वार किया जिससे बच्ची की भी मौके पर मौत हो गई।

इसे भी पढ़ें: गुरुग्राम: ससुर के सिर पर हैवान था सवार, बहू समेत 4 को गंडासे से काटा फिर पहुंचा पुलिस थाने

पुलिस के मुताबिक, यह हत्या आवेश में आकर नहीं की गई है बल्कि पूरी प्लानिंग के साथ शुरू किया गया था। हत्या में इस्तेमाल होने वाले हथियार को भी काफी दिनों से धार किया गया था। पुलिस को दिए बयान में सिंह ने बताया कि, उसकी बहु का किराएदार कृष्‍ण तिवारी के साथ अफेयर चल रहा था और दोनों को आपत्तिजनक स्थितियों में देखा गया था। हालांकि तिवारी परिवार का दावा है कि, किराएदार कृष्‍ण 4 महीने पहले ही सिंह के घर में रहने आए थे और सुनीता के परिवारवालों ने आरोप लगया गया कि, हत्या की असली वजह को छुपाया जा रहा है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़