हरियाणा: रेवाड़ी के अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते चार मरीजों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 26, 2021   07:58
हरियाणा: रेवाड़ी के अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते चार मरीजों की मौत

हरियाणा में रेवाड़ी के एक निजी अस्पताल में चिकित्सीय ऑक्सीजन की कथित कमी के चलते चार मरीजों की मौत हो गई। जिला प्रशासन ने मौत के कारणों का पता लगाने के लिए जांच भी शुरू की है।

रेवाड़ी। हरियाणा में रेवाड़ी के एक निजी अस्पताल में चिकित्सीय ऑक्सीजन की कथित कमी के चलते चार मरीजों की मौत हो गई। जिला प्रशासन ने मौत के कारणों का पता लगाने के लिए जांच भी शुरू की है। इस बीच, गुरुग्राम के एक निजी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते कोविड-19 के चार मरीजों की मौत की रपटों के बीच जिला प्रशासन ने मामले में जांच के आदेश दिए हैं। हालांकि, गुरुग्राम के अस्पताल के अधिकारियों ने इन रपटों का खंडन करते हुए कहा है कि जिन लोगों की मौत हुई, वे गंभीर रूप से बीमार थे।

इसे भी पढ़ें: हैदराबाद को मिली लगातार चौथी हार, सुपर ओवर में जीती दिल्ली कैपिटल्स

उधर, रेवाड़ी में जान गंवाने वाले मरीजों के कुछ रिश्तेदारों ने कोविड अस्पताल की इमारत के बाहर धरना-प्रदर्शन किया और अस्पताल में ऑक्सीजन की भारी किल्लत का आरोप लगाया। अस्पताल के एक अधिकारी ने संवाददाताओं से कहा, तीन मरीजों की मौत आईसीयू में जबकि एक मरीज की मौत वार्ड में हुई। हमारे पास ऑक्सीजन की सीमित आपूर्ति है। हम लगातार प्रशासन को इस बारे में बता रहे हैं। उन्होंने कहा, हम खाली ऑक्सीजन सिलेंडर को दोबारा भरने के लिए वेंडर के पास भेज रहे हैं। सुबह नौ बजे से ही हम अधिकारियों को बता रहे हैं कि हमारे पास अब सीमित ऑक्सीजन उपलब्ध है। अधिकारी ने बताया कि अस्पताल में प्रतिदिन 300 चिकित्सीय ऑक्सीजन सिलेंडर की खपत है और अस्पताल में 114 कोविड मरीज भर्ती हैं।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में पीएम केयर्स कोष से आठ ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र स्थापित किए जा रहे: सूत्र

इस बीच, नारनौल के उपायुक्त और रेवाड़ी जिला उपायुक्त का अतिरिक्त कार्यभार संभाल रहे अजय कुमार ने कहा कि अस्पताल ने ऑक्सीजन की कमी और चार मरीजों की मौत का आरोप लगाया है। उन्होंने पीटीआई-से फोन पर कहा कि रेवाड़ी के उप संभागीय मजिस्ट्रेट, रेवाड़ी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं अन्य अधिकारी अस्पताल में मौजूद हैं और वे मरीजों की मौत के कारणों का पता लगा रहे हैं। कुमार ने कहा कि अस्पताल की तरफ से ऑक्सीजन की कमी का आरोप लगाया जा रहा है जबकि प्रशासन की तरफ से ऑक्सीजन की नियमित आपूर्ति की जा रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।