हरियाणा सरकार ई-व्हीकल पोलिसी जल्द ही ला रही --दुष्यंत चौटाला

Dushyant Chautala
डिप्टी सीएम ने वर्ष 2022-23 के बजट में हरियाणा को लाभ होने की उम्मीद जताते हुए कहा कि आज राष्टï्रपति श्री रामनाथ कोविंद के अभिभाषण से केंद्र सरकार का भावी विजन साफ झलका है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पहले भी देशहित में काफी काम किया है और इस बजट से भी पूर्व की भांति विकास होंगे। उन्होंने ई-व्हीकल को वर्तमान जरूरत बताते हुए कहा कि हरियाणा सरकार भी कैबिनेट की बैठक में ई-व्हीकल पोलिसी जल्द ही ला रही है

 चंडीगढ़   उपमुख्यमंत्री  दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि कल एक फरवरी को  केंद्रीय वित्त मंत्री द्वारा पेश किए जाने वाले आम बजट में स्टार्टअप व ड्रोन के विकास जैसी आधुनिक तकनीकों पर फोकस किया जाएगा जिससे हरियाणा को काफी लाभ होगा।

वे आज सिरसा में मीडिया द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब दे रहे थे।

डिप्टी सीएम ने वर्ष 2022-23 के बजट में हरियाणा को लाभ होने की उम्मीद जताते हुए कहा कि आज राष्टï्रपति  रामनाथ कोविंद के अभिभाषण से केंद्र सरकार का भावी विजन साफ झलका है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पहले भी देशहित में काफी काम किया है और इस बजट से भी पूर्व की भांति विकास होंगे। उन्होंने ई-व्हीकल को वर्तमान जरूरत बताते हुए कहा कि हरियाणा सरकार भी कैबिनेट की बैठक में ई-व्हीकल पोलिसी जल्द ही ला रही है ताकि प्रदेश में प्रदूषण कम हो और लोगों के वाहन चलाने में दैनिक लागत भी कम आए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के इस आम बजट में ई-व्हीकल पर सकारात्मक नीति आने की उम्मीद है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने किया लाखों युवाओं से सीधा संवाद

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि केंद्र सरकार का यह आम बजट राज्य सरकारों को  मजबूती प्रदान करेगा। उन्होंने यह भी उम्मीद जताई कि केंद्र सरकार भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के उस सपने को भी साकार करने के लिए बजट में प्रावधान करेगी जिसमें वाजपेयी ने देशभर की नदियों को आपस में जोडऩे की बात कही थी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़