बिहार या किसी अन्य राज्य से कोई दिल्ली में इलाज कराता है तो केजरीवाल को दर्द क्यों होता है: तिवारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 30, 2019   17:06
बिहार या किसी अन्य राज्य से कोई दिल्ली में इलाज कराता है तो केजरीवाल को दर्द क्यों होता है: तिवारी

बिहार के रहने वाले तिवारी ने कहा, ‘‘केजरीवाल को आगामी विधानसभा चुनावों के लिए लोगों का समर्थन नहीं मिल रहा है जिसकी वजह से वह बेचैन हैं। इसलिए, वह दिल्ली में रहने वाले पूर्वांचलियों, बिहारियों और अन्य को अपमानित करने के लिये मुझे निशाना बना रहे हैं।’’

नयी दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आड़े हाथ लेते हुए भारतीय जनता पार्टी की दिल्ली इकाई के प्रमुख मनोज तिवारी ने सोमवार को आप नेता पर बिहार और अन्य प्रदेशों के लोगों को ‘‘अपमानित’’ करने का आरोप लगाया ।दिल्ली के मुख्यमंत्री ने एक दिन पहले दावा किया था कि दिल्ली के अस्पतालों में लंबी कतार का मुख्य कारण दूसरे राज्यों के मरीजों का यहां आना है। इसके बाद भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का यह बयान आया है ।तिवारी ने कहा कि बिहार अथवा किसी अन्य राज्य से कोई व्यक्ति अगर दिल्ली में इलाज कराता है तो अरविंद केजरीवाल को दर्द क्यों होता है ।उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि एक बार फिर से उन्होंने (केजरीवाल) अपनी ‘नफरत’ दिखायी है।

इसे भी पढ़ें: केजरीवाल और भारद्वाज के खिलाफ BJP ने दर्ज कराई FIR, कहा- NRC पर फैला रहे अफवाह

केजरीवाल ने रविवार को संजय गांधी मेमोरियल अस्पताल में 362 बिस्तरों वाले नये ट्रॉमा सेंटर का शिलान्यास करते हुए दावा किया था कि शहर के सरकारी अस्पतालों में लंबी कतारों के पीछे दूसरे राज्यों से आने वाले मरीज एक ‘‘प्रमुख कारण’’ हैं।उन्होंने अपनी सरकार की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली को ‘‘बेजोड़’’ करार देते हुए कहा था कि यहां चिकित्सा और दवा नि: शुल्क है, जिससे अन्य राज्य के लोग यहां आते हैं। केजरीवाल ने कहा था, ‘‘बिहार से एक आदमी 500 रुपए का टिकट खरीदकर दिल्ली आता है और 5 लाख रुपए का फ्री इलाज करवाकर वापस लौटता है। इससे हमें खुशी मिलती है क्योंकि वह हमारे देश के लोग हैं लेकिन दिल्ली की अपनी एक क्षमता है। दिल्ली पूरे देश के लोगों का इलाज कैसे करेगी? इसलिए व्यवस्था को सुधरना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: NRC पर केजरीवाल के बयान से मचा घमासान, बीजेपी का हल्ला बोल, कांग्रेस ने साधी चुप्पी

तिवारी ने कहा, ‘‘अगर केजरीवाल को मुझसे कोई व्यक्तिगत और राजनीतिक शत्रुता तो वह मुझे सीधा कुछ भी कह सकते हैं। अपनी सरकार की स्वास्थ्य सेवाओं का हवाला देते हुए वह बिहार, उत्तर प्रदेश और अन्य राज्य के लोगों का अपमान क्यों कर रहे हैं ।’’पिछले हफ्ते, केजरीवाल ने तिवारी पर हमला बोलते हुए कहा था कि दिल्ली में अगर राष्ट्रीय नागरिक पंजी व्यवस्था लागू होती है तो वह (तिवारी) पहले ऐसे व्यक्ति होंगे जिन्हें दिल्ली छोड़ना होगा ।गौतलब है कि तिवारी ने दिल्ली में अवैध रूप से रह रहे ‘विदेशियों’ को बाहर निकालने के लिए यहां एनआरसी लागू करने की मांग कर चुके हैं।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए AAP ने संजय सिंह को बनाया प्रभारी

बिहार के रहने वाले तिवारी ने कहा, ‘‘केजरीवाल को आगामी विधानसभा चुनावों के लिए लोगों का समर्थन नहीं मिल रहा है जिसकी वजह से वह बेचैन हैं। इसलिए, वह दिल्ली में रहने वाले पूर्वांचलियों, बिहारियों और अन्य को अपमानित करने के लिये मुझे निशाना बना रहे हैं।’’ दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यह समझ से परे है कि यहां इलाज के लिए आने वाले लोगों का केजरीवाल विरोध क्यों कर रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।