• मोटर वाहन अधिनियम में जुर्माना राशि में बढ़ोतरी अव्यवहारिक: कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि अगर सरकार ने यह जुर्माना राशि कम नहीं की तो कांग्रेस पार्टी विरोध प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होगी।उन्होंने कहा कि सरकार के इस जनविरोधी फैसले से न केवल साधारण जनता बल्कि लाखों टेक्सी चालक भी प्रभावित होंगे।

धर्मशाला। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता दीपक शर्मा ने कहा कि मोटर बाहन अधिनियम में जुर्माना राशि में की गई बढ़ोतरी अव्यवहारिक है। करोना संकटकाल के चलते पहले ही जनता आर्थिक तंगी से जूझ रही है।ऐसे में सरकार द्वारा भारी भरकम जुर्माना राशि तय करना जनता पर अतिरिक्त बोझ डालने के समान है। उन्होंने कहा कि भारी भरकम जुर्माना तय करने से मोटर वाहन अधिनियम का उलंघन नहीं रुकेगा।इसके लिए जनता को प्रेरित करने पर बल दिया जाना चाहिए।अगर कोई वाहन नियमों का उलंघन करता है तो जुर्माना राशि व्यवहारिक होनी चाहिए। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि वातानुकूलित कमरों में बैठ कर अफ़सरशाही जनविरोधी फैसले ले रही है।सरकार को हर पहलू से सोच कर निर्णय करना चाहिए।उन्होंने कहा कि इस निर्णय से सरकार की असंवेदनशीलता की झलक मिलती है।

इसे भी पढ़ें: जवान की शहादत पर हिमाचल कांग्रेस के प्रवक्ता दीपक शर्मा ने जताई गहरी संवेदना

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि अगर सरकार ने यह जुर्माना राशि कम नहीं की तो कांग्रेस पार्टी विरोध प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होगी।उन्होंने कहा कि सरकार के इस जनविरोधी फैसले से न केवल साधारण जनता बल्कि लाखों टेक्सी चालक भी प्रभावित होंगे। दीपक शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार हर बार जनविरोधी फैसले लेकर नौसिखिया सरकार होने का प्रमाण दे रही है।सरकार ने अभी तक एक भी फ़ैसला जनहित में नहीं लिया है।सरकार के जनविरोधी फैसलों से प्रदेश का किसान-बागवान,मजदूर,बेरोजगार, छोटा व्यापारी, मध्यम वर्ग, सब आहत हैं।उन्होंने कहा कि सरकार को महंगाई, बेरोज़गारी की समस्याओं पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है लेकिन सरकार का इन ज्वलन्त समस्याओं बारे कोई ध्यान-दृष्टिकोण नहीं है।उन्होंने कहा कि यह सरकार मात्र अपनी कुर्सी बचाने तक सीमित हो कर रह गई है।