13 करोड़ वैक्सीन की खुराकें देने वाला सबसे तेज देश बना भारत, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 21, 2021   16:05
13 करोड़ वैक्सीन की खुराकें देने वाला सबसे तेज देश बना भारत, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

भारत सबसे तेजी से कोविड-19 टीकों की 13 करोड़ खुराकें देने वाला देश बन गया है और स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अमेरिका को कोविड-19 टीकों की 13 करोड़ खुराक देने में 101 दिन का समय लगा जबकि चीन ने इसके लिए 109 दिन लगाए।

नयी दिल्ली। भारत सबसे तेजी से कोविड-19 टीकों की 13 करोड़ खुराकें देने वाला देश बन गया है और स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, उसे ऐसा करने में महज 95 दिन का समय लगा। मंत्रालय ने बताया कि अमेरिका को कोविड-19 टीकों की 13 करोड़ खुराक देने में 101 दिन का समय लगा जबकि चीन ने इसके लिए 109 दिन लगाए। सुबह सात बजे तक के अनंतिम आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोविड-19 टीके की कुल मिलाकर 13,01,19,310 खुराकें दी जा चुकी हैं जिनमें से 29,90,197 खुराकें पिछले 24 घंटे में दी गई। इनमें से 92,01,728 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की पहली खुराक दी गई और 58,17,262 कर्मियों को दूसरी खुराक दी गई।इनमें अग्रिम मोर्चे पर काम करने वाले 1,15,62,535 कर्मी भी शामिल हैं जिन्हें पहली खुराक दी गई और 58,55,821 कर्मियों को दूसरी खुराक दी गई। इसके अलावा 60 वर्ष से अधिक उम्र के 4,73,55,942 लाभार्थियों को पहली खुराक और 53,04,679 को दूसरी खुराक दी गई। वहीं, 45 से 60 साल के आयु वर्ग में 4,35, 25,687 लोगों को पहली खुराक और 14,95,656 को दूसरी खुराक दी गई। देश में अब तक दी गई खुराकों में से 59.25 प्रतिशत खुराकें आठ राज्यों - महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश और केरल में दी गई हैं।

इसे भी पढ़ें: जीता दिल! कोरोना मरीजों को ऑक्‍सीजन सिलेंडर पहुंचाने का काम कर रही दिल्ली पुलिस

मंत्रालय ने बताया कि टीकाकरण अभियान के 95वें दिन (20 अप्रैल को) 29,90,197 टीकों की खुराकें दी गईं जिसमें 42,384 सत्रों के माध्यम से 19,86,711 लाभार्थियों को पहली खुराक और 10,03,486 को दूसरी खुराक दी गई। देशव्यापी टीकाकरण अभियान की शुरुआत 16 जनवरी को हुई थी जिसमें स्वास्थ्य कर्मियों को सबसे पहले टीका दिया गया वहीं दो फरवरी से इस अभियान में अग्रिम मोर्चे के कार्यकर्ताओं को शामिल किया गया। कोविड-19 टीकाकरण का अगला चरण 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों तथा अन्य गंभीर स्वास्थ्य बीमारियों वाले 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए एक मार्च से शुरू हुआ। भारत ने 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीका देने की मुहिम एक अप्रैल से शुरू की। इस बीच, सोमवार को सरकार ने टीकाकरण अभियान के दायरे में सभी को शामिल करने का फैसला किया और एक मई से 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों को टीका दिया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।