जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों से निपटने के लिये भारत अपनी जिम्मेदारी के प्रति सजग: जावड़ेकर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 16, 2020   19:18
जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों से निपटने के लिये भारत अपनी जिम्मेदारी के प्रति सजग: जावड़ेकर

जावड़ेकर ने जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों का सामना करने के लिये विभिन्न देशों के संगठन ‘कोप’ के इस साल ग्लासगो में होने वाले 26वें सम्मेलन की तैयारियों के मद्देनजर गुरुवार को बताया कि भारत सम्मेलन को सफल बनाने के लिये सकारात्मक भूमिका का निर्वाह करेगा।

नयी दिल्ली। पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों से निपटने के लिये वैश्विक स्तर पर जारी उपायों को लागू करने के प्रति भारत सजग एवं प्रतिबद्ध भागीदार के रूप में अपनी जिम्मेदारी निभा रहा है। जावड़ेकर ने जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों का सामना करने के लिये विभिन्न देशों के संगठन ‘कोप’ के इस साल ग्लासगो में होने वाले 26वें सम्मेलन की तैयारियों के मद्देनजर गुरुवार को बताया कि भारत सम्मेलन को सफल बनाने के लिये सकारात्मक भूमिका का निर्वाह करेगा। जावड़ेकर ने इस सिलसिले में कोप 26 की नवनियुक्त अध्यक्ष ब्रिटेन की पूर्व मंत्री क्लेयर ओ’नील के साथ बैठक कर सम्मेलन की कार्ययोजना पर विचार विमर्श किया। 

जावड़ेकर ने कहा, ‘‘पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों का सामना करने के बारे में भारत शुरु से ही संजीदा और सकारात्मक भूमिका निभा रहा है। हमने कोप 26 की इस साल के अंत में ग्लासगो में होने वाली बैठक को सफल बनाने की रूपरेखा पर विस्तार से विचार विमर्श किया।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने नील को सुझाव दिया है कि सम्मेलन में मुद्दों पर आधारित विषयों को रखा जाना चाहिये, जिससे सदस्य देशों की स्पष्ट भूमिका तय की जा सके। इनमें भूमि क्षरण को रोकना और हरित क्षेत्र में विस्तार सहित अन्य ऐसे विषय शामिल हैं, जिन पर सदस्य देशों के बीच आमराय बनाना आसान हो।’’ 

इसे भी पढ़ें: दविंदर को कौन दे रहा था संरक्षण, मामले पर प्रधानमंत्री और गृह मंत्री खामोश क्यों हैं: राहुल

उल्लेखनीय है कि कोप की 25 वीं बैठक पिछले साल दिसंबर में स्पेन के मेड्रिड में आयोजित हुयी थी। इसमें जावड़ेकर ने विकसित देशों से पर्यावरण हितैषी हरित प्रौद्योगिकी विकासशील देशों को मुहैया कराने की जिम्मेदारी का निर्वाह अविलंब करने की अपील की थी। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...