स्टार्टअप में भारत का झंडा बुलंद, युवाओं को इनोवेशन का मौका देना प्राथमिकता: नरेंद्र मोदी

स्टार्टअप में भारत का झंडा बुलंद, युवाओं को इनोवेशन का मौका देना प्राथमिकता: नरेंद्र मोदी

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के उन सभी स्टार्टअप्स को सभी इनोवेटिव युवाओं को बहुत-बहुत बधाई देता हूं, जो स्टार्टअप्स की दुनिया में भारत का झंडा बुलंद कर रहे हैं। स्टार्टअप्स का ये कल्चर देश के दूर-दराज तक पहुंचे, इसके लिए 16 जनवरी को अब नेशनल स्टार्ट अप डे के रूप में मनाने का फैसला किया गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज स्टार्टअप कारोबारियों के साथ संवाद किया। अपने संवाद में प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत में स्टार्टअप का झंडा बुलंद है और देश के युवाओं को बढ़ावा देना ही सरकार की प्राथमिकता है। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के उन सभी स्टार्टअप्स को सभी इनोवेटिव युवाओं को बहुत-बहुत बधाई देता हूं, जो स्टार्टअप्स की दुनिया में भारत का झंडा बुलंद कर रहे हैं। स्टार्टअप्स का ये कल्चर देश के दूर-दराज तक पहुंचे, इसके लिए 16 जनवरी को अब नेशनल स्टार्ट अप डे के रूप में मनाने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि 2022 भारत के स्टार्ट-अप क्षेत्र के लिए और नए अवसर लेकर आया है। भारत की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष में स्टार्ट-अप इंडिया इनोवेशन वीक का आयोजन भी महत्वपूर्ण है।

प्रधानमंत्री ने ऐलान किया कि स्टार्ट-अप्स का कल्चर देश के दूर-दराज तक पहुंचे इसके लिए 16 जनवरी को अब नेशनल स्टार्ट-अप डे के रूप में मनाने का फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास देश में बचपन से ही छात्रों में innovation के प्रति आकर्षण पैदा करने, innovation को institutionalise करने का है। 9,000 से ज्यादा अटल टिंकरिंग लैब्स, आज बच्चों को स्कूलों में innovate करने, नए Ideas पर काम करने का मौका दे रही हैं।  जीईएम प्लेटफॉर्म पर स्टार्ट-अप रनवे सुविधा का उपयोग स्टार्ट अप द्वारा अपने उत्पादों को सरकार को उपलब्ध कराने के लिए भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नए ड्रोन नियमों से लेकर नई अंतरिक्ष नीति तक, सरकार युवाओं को नवाचार के अधिक से अधिक अवसर देने की कोशिश कर रही है। हमारी सरकार ने आईपीआर नियमों में भी ढील दी है। केंद्र और राज्य सरकारें भी बड़ी संख्या में इन्क्यूबेटरों को बढ़ावा दे रही हैं।

इसे भी पढ़ें: स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी ने पिता को बताया हीरो, राजनीतिक भविष्य पर कहा- मैं प्रधानमंत्री मोदी के साथ

मोदी ने कहा कि युवाओं की क्षमता और रचनात्मकता में विश्वास किसी भी राष्ट्र के विकास का आधार है। भारत आज अपने युवाओं में विश्वास रखता है और उसी के अनुरूप नीतियां बना रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार के अलग-अलग विभाग, मंत्रालय, नौजवानों और स्टार्ट-अप्स के साथ संपर्क में रहते हैं। उनके आइडियाज को प्रोत्साहित करते हैं। सरकार की प्राथमिकता ज्यादा से ज्यादा युवाओ को innovation  का मौका देने की है। मोदी ने कहा कि Innovation को लेकर भारत में जो अभियान चल रहा है, उसी का प्रभाव है कि Global Innovation Index में भी भारत की रैंकिंग में बहुत सुधार आया है। वर्ष 2015 में इस रैंकिंग में भारत 81 नंबर पर था। अब इनोवेशन इंडेक्स में भारत 46 नंबर पर है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...