मोदी जी के नेतृत्व में वैश्विक महाशक्ति बनेगा भारतः शर्मा

मोदी जी के नेतृत्व में वैश्विक महाशक्ति बनेगा भारतः  शर्मा

विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि मोदी जी की सफल कूटनीति ने न सिर्फ चीन के प्रभाव को सीमित कर दिया है, बल्कि अब वह दुनिया में अलग-थलग पड़ता दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक अनुसंधान, व्यापार, आर्थिक संभावनाओं और सैन्य क्षमता के क्षेत्र में भारत का लोहा पूरी दुनिया मानने लगी है

भोपाल। प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में दुनिया में भारत का प्रभाव तेजी से बढ़ रहा है और अब दुनिया के शक्ति संपन्न देश भी इस तथ्य को स्वीकारने लगे हैं। प्रधानमंत्री मोदी जी देश को जिस राह पर ले जा रहे हैं, उस पर चलकर भारत निश्चित रूप से एक वैश्विक महाशक्ति बनेगा। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अमेरिका के सर्वोच्च मिलिट्री सम्मान लीजन ऑफ मेरिट से सम्मानित किए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कही।

 

इसे भी पढ़ें: मोतीलाल वोरा के निधन पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में तीन दिन का राजकीय शोक

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को अमेरिका का सर्वोच्च मिलिट्री सम्मान भारत को ग्लोबल पॉवर बनाने और अमेरिका के साथ रणनीतिक साझेदारी विकसित करने के लिए दिया गया है। उन्होंने कहा कि यह वैश्विक स्तर पर भारत के बढ़ते प्रभाव की स्पष्ट स्वीकारोक्ति है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश की तात्कालिक और दीर्घकालीन आवश्यकताओं को समझते हुए जो विदेश नीति निर्धारित की, उसका परिणाम हम एक से अधिक अवसरों पर देख चुके हैं। चाहे कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का प्रोपेगंडा हो, या फिर चीन के साथ सीमा पर चल रहा तनाव, दुनिया के अधिकतर देश आज भारत के साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: मंदसौर जिला अस्पताल में लगेगा ऑक्सीजन प्लांट, नहीं होगी ऑक्सीजन की किल्लत

विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि मोदी जी की सफल कूटनीति ने न सिर्फ चीन के प्रभाव को सीमित कर दिया है, बल्कि अब वह दुनिया में अलग-थलग पड़ता दिखाई दे रहा है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक अनुसंधान, व्यापार, आर्थिक संभावनाओं और सैन्य क्षमता के क्षेत्र में भारत का लोहा पूरी दुनिया मानने लगी है और वह दिन दूर नहीं, जब भारत एक वैश्विक महाशक्ति के रूप में पहचाना जाएगा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।