जेल में बंद कश्मीरी अलगाववादी नेता यासीन मलिक अस्पताल में भर्ती

Yasin Malik
ANI
राजधानी की तिहाड़ जेल में भूख हड़ताल कर रहे कश्मीरी अलगाववादी नेता यासीन मलिक को तबीयत बिगड़ने के बाद आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूत्रों ने बुधवार को बताया कि मलिक के रक्तचाप (बीपी) में उतार-चढ़ाव आ रहा है, जिसके कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

नयी दिल्ली। राजधानी की तिहाड़ जेल में भूख हड़ताल कर रहे कश्मीरी अलगाववादी नेता यासीन मलिक को तबीयत बिगड़ने के बाद आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूत्रों ने बुधवार को बताया कि मलिक के रक्तचाप (बीपी) में उतार-चढ़ाव आ रहा है, जिसके कारण उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि मलिक ने अस्पताल के डॉक्टरों को एक पत्र लिखकर कहा है कि वह इलाज कराना नहीं चाहता है।

इसे भी पढ़ें: राज्यसभा में आप सदस्य संजय सिंह शुक्रवार तक निलंबित, कार्यवाही दो बजे तक स्थगित

एक सूत्र ने कहा, ‘‘उसे बीपी में उतार-चढ़ाव के बाद मंगलवार को आरएमएल अस्पताल में भर्ती कराया गया।’’ प्रतिबंधित जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के प्रमुख मलिक ने गत शुक्रवार सुबह अपनी अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की थी। केंद्र ने रुबैया सईद के अपहरण मामले की सुनवाई में जम्मू की एक अदालत में उसे पेश होने की अनुमति नहीं दी थी, जिसके बाद उसने भूख हड़ताल शुरू की। मलिक इस मामले में आरोपी है।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के एक युवा नेता की हत्या, दक्षिण कन्नड़ जिले में विहिप ने किया बंद का आह्वान

मलिक को तिहाड़ की जेल संख्या सात में उच्च जोखिम वाली कोठरी में अकेले रखा गया है। मलिक को जेल के चिकित्सा जांच कक्ष में ले जाया गया था, जहां उसे आईवी फ्ल्यूड दिया जा रहा था। जेकेएलएफ प्रमुख मलिक आतंकवाद के वित्त-पोषण के एक मामले में उम्रकैद की सजा काट रहा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़