कांग्रेस नेता गौरव वल्लभ का निशंक से आग्रह, कहा- JEE और नीट की परीक्षाएं की जाए स्थगित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 22, 2020   14:58
कांग्रेस नेता गौरव वल्लभ का निशंक से आग्रह, कहा- JEE और नीट की परीक्षाएं की जाए स्थगित

कांग्रेस नेता गौरव वल्लभ ने कहा कि इन परीक्षाओं को कराने से पहले कोरोना वायरस से बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए पूरी रूपरेखा एवं योजना तैयार की जाए तथा कोई भी फैसला करते समय राज्यों के साथ विचार-विमर्श किया जाए।

नयी दिल्ली। कांग्रेस नेता गौरव वल्लभ ने शनिवार को केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को पत्र लिखकर आग्रह किया कि कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए अगले महीने संयुक्त प्रवेश परीक्षा (मेन) और राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट स्नातक) कराने के फैसले पर पुनर्विचार हो और इनको स्थगित किया जाए। वल्लभ ने निजी हैसियत से लिखे इस पत्र में मंत्री को कुछ ‘ठोस कदम’ उठाने के सुझाव भी दिए और कहा कि इन परीक्षाओं को कराने से पहले कोरोना वायरस से बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए पूरी रूपरेखा एवं योजना तैयार की जाए तथा कोई भी फैसला करते समय राज्यों के साथ विचार-विमर्श किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि दो वर्ष का पाठ्यक्रम तैयार किया जाए ताकि बच्चों का एक साल बर्बाद नहीं हो और अभिभावकों की चिंताओं का भी निदान हो सके। 

इसे भी पढ़ें: शिक्षा मंत्री बोले, मातृभाषा में पठन पाठन से स्थानीय भाषाओं और बोलियां का हो सकेगा संरक्षण 

कांग्रेस प्रवक्ता ने इस पत्र में कहा, ‘‘मैंने कई वर्षों तक बतौर शिक्षक कार्य किया है। ऐसे में मैंने बहुत सारे छात्रों से बातचीत की। सितंबर में जेईई मेन और नीट परीक्षा कराने से जुड़े आपके मंत्रालय के फैसले को लेकर सभी को चिंता है।’’ उन्होंने सवाल किया कि क्या अप्रैल-मई में जब इन परीक्षाओं को टाला गया था तो उस समय के मुकाबले अब कोरोना वायरस के हालात बेहतर हैं? केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने शुक्रवार को जानकारी दी कि जेईई (मेन) और नीट स्नातक का आयोजन सितंबर महीने में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होगा। गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को जेईई (मेन) और नीट स्नातक परीक्षा स्थगित करने का अनुरोध करने वाली याचिका को खारिज कर दिया था। इसका आयोजन सितंबर माह में निर्धारित है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।