कमलनाथ ने आउटसोर्स कर्मचारियों को कलेक्टर दर से पारिश्रमिक देने की सरकार से मांग

कमलनाथ ने आउटसोर्स कर्मचारियों को कलेक्टर दर से पारिश्रमिक देने की सरकार से मांग
प्रतिरूप फोटो

कमलनाथ ने अपने पत्र में कहा कि मेरे ध्यान में लाया गया है कि प्रदेश की विद्युत कंपनियों में आउटसोर्स एजेंसी के माध्यम से लिये गये कर्मचारियों को कलेक्टर दर अनुसार वेतन का भुगतान नहीं किया जाकर अत्यंत कम भुगतान किया जा रहा है।

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रदेश सरकार से  विद्युत कंपनियों में आउटसोर्स कर्मचारियों को कलेक्टर दर से पारिश्रमिक देने की मांग की है। उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर कुशल, अर्धकुशल एवं अकुशल श्रमिक वर्ग के पारिश्रमिक हेतु दरें निर्धारित करने को कहा है। कमलनाथ ने अपने पत्र में कहा कि मेरे ध्यान में लाया गया है कि प्रदेश की विद्युत कंपनियों में आउटसोर्स एजेंसी के माध्यम से लिये गये कर्मचारियों को कलेक्टर दर अनुसार वेतन का भुगतान नहीं किया जाकर अत्यंत कम भुगतान किया जा रहा है।

 

इसे भी पढ़ें: शिवपुरी देहात थाना क्षेत्र में पिता ने की नशे में पुत्र की हत्या

कमलनाथ ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि शासन द्वारा कुशल, अद्र्धकुशल एवं अकुशल श्रमिक वर्ग के पारिश्रमिक हेतु दरें नियत की जाती है। जिसके अनुसार श्रमिकों को देय न्यूनतम राशि नियत होती है। आउटसोर्स एजेंसी के माध्यम से कार्यरत कर्मचारियों को भी शासन द्वारा नियत न्यूनतम पारिश्रमिक देय होता है, परन्तु प्रदेश की विद्युत कंपनियों में इसका पालन सुनिश्चित नहीं कराया जा रहा है। अत: मेरा आपसे अनुरोध है कि प्रदेश की विद्युत कंपनियों में कार्यरत इन आउटसोर्स कर्मचारियों को कलेक्टर दर अनुसार पारिश्रमिक देय हो, यह सुनिश्चित कराने का कष्ट करें।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।