कर्नाटक के मुख्यमंत्री कोविड से उबरे, कहा- पाबंदियों में छूट को लेकर 21 जनवरी को होगा फैसला

Basavaraj Bommai
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार सप्ताहांत कर्फ्यू समेत कोविड-19 प्रतिबंधों में छूट के संबंध में पुन:विचार करेगी और 12 जनवरी को निर्णय लेगी। कोरोना वायरस के संक्रमण से उबरने के बाद मुख्यमंत्री ने आज कार्यालय से अपना रोज़मर्रा का कामकाज फिर से शुरू कर दिया।

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार सप्ताहांत कर्फ्यू समेत कोविड-19 प्रतिबंधों में छूट के संबंध में पुन:विचार करेगी और 12 जनवरी को निर्णय लेगी। कोरोना वायरस के संक्रमण से उबरने के बाद मुख्यमंत्री ने आज कार्यालय से अपना रोज़मर्रा का कामकाज फिर से शुरू कर दिया। उन्होंने कहा, शुक्रवार को, मैं विशेषज्ञों के साथ बैठक करूंगा और लागू किए गए प्रतिबंधों पर फिर से विचार करूंगा।

इसे भी पढ़ें: मुंबई विस्फोटों के अपराधी पाकिस्तान में पांच-सितारा सुविधाओं का लुत्फ उठा रहे हैं: तिरुमूर्ति

यहां पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, कोविड के मामलों की संख्या बढ़ रही है, इसके बावजूद बहुत कम लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराना पड़ रहा है। इससे कम दबाव पड़ रहा है, लेकिन ओपीडी पर ध्यान दिया जाना चाहिए। देखते हैं कि विशेषज्ञ क्या कहते हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या सप्ताहांत कर्फ्यू भी हटाया जाएगा तो बोम्मई ने कहा कि उन सभी चीजों का फैसला विशेषज्ञों से सलाह लेने और उनकी रिपोर्ट को देखने के बाद किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: मुंबई विस्फोटों के अपराधी पाकिस्तान में पांच-सितारा सुविधाओं का लुत्फ उठा रहे हैं: तिरुमूर्ति

उन्होंने कहा कि विभिन्न देशों और राज्यों की प्रवृत्ति के आधार पर, विशेषज्ञों ने अनुमान लगाया है कि जनवरी के अंत और फरवरी के पहले सप्ताह तक राज्य में मामले चरम पर पहुंच सकते हैं। पूछा गया कि जब मामले चरम पर पहुंच सकते हैं तो पाबंदियों में छूट देने की चर्चा क्यों की जा रही है, तो उन्होंने कहा, सामान्य भावना यह है कि यह (संक्रमण) एक फ्लू की तरह है, और अस्पतालों में ज्यादा मरीज भर्ती नहीं हो रहे हैं। इसलिए कोविड नियमों का पालन करते हुए दिन-प्रतिदिन की गतिविधियां हो सकती हैं। विशेषज्ञ इसे देख रहे हैं। वे शुक्रवार को चीजें हमारे सामने रखेंगे, जिसके बाद हम निर्णय लेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़