महाराष्ट्र संकट: मातोश्री के बाहर जुटे शिवसैनिक, उद्धव के समर्थन में हो रही नारेबाजी, बागी विधायकों के खिलाफ प्रदर्शन

shiv sena supporters
ANI
अंकित सिंह । Jun 24, 2022 6:55PM
मातोश्री के बाहर अब शिवसैनिक जुटने लगे हैं। यह शिवसैनिक लगातार उद्धव ठाकरे का समर्थन कर रहे हैं। इतना ही नहीं, उनके समर्थन में जमकर नारेबाजी भी हो रही है। यही दृश्य उस वक्त भी देखने को मिला था जब अब आधिकारिक के मुख्यमंत्री आवास छोड़कर उद्धव ठाकरे मातोश्री पहुंचे थे।

महाराष्ट्र में लगातार राजनीतिक उठापटक का दौर जारी है। शिवसेना में बागी विधायकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। शिवसेना में नंबर दो की हैसियत रखने वाले एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में लगभग 40 विधायक गुवाहाटी के एक होटल में हैं। यह लगातार महा विकास आघाडी सरकार का विरोध कर रहे हैं। इन विधायकों की मांग है कि शिवसेना को भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाना चाहिए। इसके अलावा भी यह बागी लगातार हिंदुत्व के एजेंडे को बुलंद करने की बात कर रहे हैं। इन सब के पीछे शरद पवार और उद्धव ठाकरे के मध्य महाराष्ट्र के राजनीतिक हालात पर पड़ी बैठक चल रही है। यह बैठक मातोश्री में हो रही है। इस बैठक में शरद पवार के अलावा अजित पवार, जयंत पाटिल जैसे दिग्गज शामिल हुए हैं।

इसे भी पढ़ें: Evening News Brief: महाराष्ट्र के सियासी ड्रामे में नये पेंच, जकिया जाफरी को सुप्रीम कोर्ट से झटका

मातोश्री के बाहर जुटे शिवसैनिक

दूसरी ओर मातोश्री के बाहर अब शिवसैनिक जुटने लगे हैं। यह शिवसैनिक लगातार उद्धव ठाकरे का समर्थन कर रहे हैं। इतना ही नहीं, उनके समर्थन में जमकर नारेबाजी भी हो रही है। यही दृश्य उस वक्त भी देखने को मिला था जब अब आधिकारिक के मुख्यमंत्री आवास छोड़कर उद्धव ठाकरे मातोश्री पहुंचे थे। कार्यकर्ताओं का हुजूम पूरा का पूरा जुटा हुआ था। दूसरी ओर बागी विधायकों का भी विरोध शुरू हो गया है। मुंबई में शिवसेना के बागी विधायक दिलीप लांडे के पोस्टर पर कालिख पोती दी गई है। शिवसैनिक लगातार इनका विरोध कर रहे हैं। इसके अलावा बागी विधायक मंगेश कुडलकर का कुर्ला में भी पोस्टर पर तोड़फोड़ करने की कोशिश की गई है।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र: आदित्य ठाकरे का इमोशनल कार्ड, बोले- जिनको हमने पाला था, उन्होंने ही हमें धोखा दिया

अलर्ट पर महाराष्ट्र पुलिस

इसको लेकर महाराष्ट्र पुलिस की ओर से एक आदेश को जारी किया गया है। आदेश में कहा गया है कि महाराष्ट्र के सभी पुलिस थानों, खासकर मुंबई के पुलिस थानों को हाई अलर्ट पर रहने का आदेश दिया गया है। पुलिस को सूचना मिली थी कि शिवसैनिक बड़ी संख्या में सड़कों पर उतर सकते हैं। शांति सुनिश्चित करने के लिए पुलिस को सतर्क रहने को कहा गया है। आपको बता दें कि हाल में ही प्रशासन से जुड़े वरिष्ठ लोगों ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी। राजनीतिक संकट के बीच सभी दल अपने-अपने नेताओं को एकजुट करने में जुटे हुए हैं। यही कारण है कि पुलिस प्रशासन भी अब सक्रिय हो गया है और खुफिया रिपोर्ट पर लगातार नजर रख रहा है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़