ममता बनर्जी ने ना मां की चिंता की, ना माटी की और ना ही मानुष की: जेपी नड्डा

ममता बनर्जी ने ना मां की चिंता की, ना माटी की और ना ही मानुष की: जेपी नड्डा

जेपी नड्डा ने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी ने मां, माटी और मानुष की चिंता नहीं की। जेपी नड्डा ने कहा कि बंगाल में ममता दीदी की सरकार मां, माटी, मानुष के नाम पर आई थी। लेकिन बड़े दुख के साथ कहना पड़ता है कि ममता जी ने ना मां की चिंता की, ना माटी की और ना ही मानुष की चिंता की।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के लिए दो चरण के मतदान बचे हुए है। कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए चुनाव आयोग की ओर से प्रचार पर कुछ पाबंदियां लगाई गई है। नेता डिजिटल तरीके से चुनाव प्रचार कर रहे हैं। आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पश्चिम बंगाल में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। जेपी नड्डा ने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी ने मां, माटी और मानुष की चिंता नहीं की। जेपी नड्डा ने कहा कि बंगाल में ममता दीदी की सरकार मां, माटी, मानुष के नाम पर आई थी। लेकिन बड़े दुख के साथ कहना पड़ता है कि ममता जी ने ना मां की चिंता की, ना माटी की और ना ही मानुष की चिंता की।

नड्डा ने आगे कहा कि टीएमसी के गुंडों ने इस क्षेत्र में फिर से राजनीतिक हिंसा का सहारा लिया। यह उस मुद्दे को राजनीतिक और लोकतांत्रिक साधनों से हल करने का समय है। उन्होंने कहा कि ममता जी आपने बंगाल को 10 साल पिछड़ा रखा है और बंगाल को 10 साल पीछे कर दिया। अब आपके जाने की बारी है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।