दोस्त के बेटियों को अकेला घर में पाकर कर दिया गंदा काम, पड़ोसियों ने किया पुलिस के हवाले

rape
Prabhasakshi
दो बच्चियों से दुष्कर्म के प्रयास के जुर्म में व्यक्ति को दस वर्ष की कैद की सजा सुनाई गई है।विशेष लोक अभियोजक चवनपाल भाटी ने बताया कि एक व्यक्ति की पत्नी की मौत हो गयी थी और वह पांच तथा तीन वर्ष की दो बेटियों के साथ नोएडा में रहता था।

नोएडा (उप्र)। गौतमबुद्ध नगर जिले की एक अदालत ने दो बच्चियों से दुष्कर्म के प्रयास के जुर्म में एक व्यक्ति को दस वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है। अपर जिला एवं सत्र अदालत के विशेष न्यायाधीश निरंजन कुमार ने दोषी पर 25 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है जिसे अदा नहीं करने पर उसे एक वर्ष की अतिरिक्त सजा काटनी होगी। विशेष लोक अभियोजक चवनपाल भाटी ने बताया कि एक व्यक्ति की पत्नी की मौत हो गयी थी और वह पांच तथा तीन वर्ष की दो बेटियों के साथ नोएडा में रहता था।

इसे भी पढ़ें: ईडी ने धनशोधन मामले में करनाल के एक कारोबारी को गिरफ्तार किया

उन्होंने बताया कि 29 सितंबर 2016 को जब वह ड्यूटी से घर लौटा तो उसके घर के बाहर भीड़ लगी हुई थी, उसकी छोटी बेटी ने बताया कि पिता के दोस्त कन्हैया ने उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया है। उन्होंने बताया कि इसके बाद बड़ी बेटी ने भी अपने पिता को बताया कि चार दिन पहले कन्हैया ने उससे भी दुष्कर्म का प्रयास किया था। भीड़ ने प्रतापगढ़ निवासी कन्हैया को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था। पुलिस ने मासूम बच्चियों के पिता की शिकायत पर मामला दर्ज किया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़