मनीष सिसोदिया का बयान, दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म हो गयी है

मनीष सिसोदिया का बयान, दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म हो गयी है

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को आरोप लगाया कि हरियाणा सरकार के एक अधिकारी ने फरीदाबाद के एक संयंत्र से दिल्ली को ऑक्सीजन की आपूर्ति रोक दी।

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बुधवार को आरोप लगाया कि हरियाणा सरकार के एक अधिकारी ने फरीदाबाद के एक संयंत्र से दिल्ली को ऑक्सीजन की आपूर्ति रोक दी। सिसोदिया ने कहा कि केंद्र राज्यों के लिए ऑक्सीजन का कोटा तय करता है और AAP सरकार मांग करती रही है कि केंद्र दिल्ली के ऑक्सीजन का कोटा 378 मीट्रिक टन से बढ़ाकर 700 मीट्रिक टन करे। 

इसे भी पढ़ें: राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना को लेकर कैबिनेट की बैठक बुलाई

 

इसके अलावा दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आज कहा कि कुछ राज्य राष्ट्रीय राजधानी के हिस्से की चिकित्सीय ऑक्सीजन पर नियंत्रण हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं। दिल्ली के कुछ अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म हो गयी है, उनके पास कोई विकल्प नहीं है। मनीष सिसोदिया ने दिल्ली में ऑक्सीजन संकट पर कहा हम अभी अंदरूनी व्यवस्था कर रहे हैं लेकिन कुछ समय बाद लोगों की जान बचाना मुश्किल हो जाएगा । 

इसे भी पढ़ें: ममता बनर्जी ने कोविड-19 टीके की कीमत में अंतर को लेकर भाजपा सरकार की ओलाचना की

 

आपको बता दें कि मनीष सिसोदिया ने दिल्ली के पड़ोसी बीजेपी शासित प्रदेशों पर आरोप लगाया था कि  उत्तर प्रदेश और हरियाणा की पुलिस दिल्ली की ऑक्सीजन आपूर्ति बाधित कर रही है, केंद्र से अनुरोध है कि जरूरत पड़ने पर अर्धसैनिक बलों की मदद लेकर भी आपूर्ति सुनिश्चित करे। केंद्र सरकार को इस दिशा में एक कदम उठाना बाकी है। सिसोदिया ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "हम फिर से मांग करते हैं कि केंद्र बढ़ी हुई खपत के मद्देनजर हमारे ऑक्सीजन को बढ़ाकर 700 मीट्रिक टन कर दे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।