MCD Election: रुझानों में ‘आप’ बहुमत के आंकड़े के पार, भाजपा भी ज्यादा पीछे नहीं

AAP MCD Election
प्रतिरूप फोटो
ANI
राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर पूर्वाह्न 11.30 बजे उपलब्ध रुझानों के मुताबिक, ‘आप’ 56 सीटों पर जीत दर्ज कर चुकी है, जबकि 77 सीटों पर आगे चल रही है। वहीं, भाजपा 46 सीटों पर विजयी घोषित की जा चुकी है, जबकि 58 सीटों पर उसे बढ़त हासिल है

दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनावों की मतगणना के ताजा रुझानों में आम आदमी पार्टी (आप) 126 के जादुई आंकड़े को पार करती नजर आ रही है, जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) भी उससे ज्यादा पीछे नहीं है। राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर पूर्वाह्न 11.30 बजे उपलब्ध रुझानों के मुताबिक, ‘आप’ 56 सीटों पर जीत दर्ज कर चुकी है, जबकि 77 सीटों पर आगे चल रही है। वहीं, भाजपा 46 सीटों पर विजयी घोषित की जा चुकी है, जबकि 58 सीटों पर उसे बढ़त हासिल है।

रुझानों के अनुसार, कांग्रेस एमसीडी चुनावों में काफी पीछे चल ही है। पार्टी को केवल चार सीटों पर जीत प्राप्त हुई है और छह सीटों पर वह आगे चल रही है। एमसीडी में कुल 250 वार्ड हैं और बहुमत के लिए 126 वार्ड में जीत जरूरी है। पूर्वोत्तर दिल्ली की सीलमपुर सीट से निर्दलीय उम्मीदवार शकीला बेगम ने जीत दर्ज की है। एमसीडी चुनावों की मतगणना सुबह आठ बजे शुरू हुई थी और 9.30 बजे आए शुरुआती रुझानों में भाजपा ने ‘आप’ पर महत्वपूर्ण बढ़त बना ली थी। हालांकि, जल्द ही रुझान ‘आप’ के पक्ष में झुकते नजर आने लगे। दिल्ली में पिछले साल तीनों निगमों का एक बार फिर विलय होने के बाद यह पहला एमसीडी चुनाव था।

2017 के चुनावों में भाजपा ने 270 वार्ड में से 181 पर जीत हासिल की थी, जबकि ‘आप’ के खाते में 48 सीटें गई थीं। वहीं, कांग्रेस 30 वार्डों में जीत के साथ तीसरे स्थान पर रही थी। ‘आप’ के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने एमसीडी चुनाव में अपनी पार्टी की जीत का भरोसा जताया। उन्होंने कहा, “हम 180 से अधिक सीटों पर विजयी होंगे। हमने अपने कार्यालय को सजा लिया है, हम जीत का जश्न मनाने के लिए तैयार हैं। भाजपा चुनाव प्रचार के दौरान एमसीडी में अपने 15 साल के कार्यकाल में कोई भी उपलब्धि नहीं गिना पाई है।” वहीं, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा कि चुनाव बाद के सर्वेक्षणों का अनुमान पूरी तरह से गलत था।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “15 साल के शासन के बाद भी भाजपा अपने काम के बलबूते अपना वोट प्रतिशत बरकरार रखने में कामयाब रही है। लोगों को समय से पहले जश्न मनाने से बचना चाहिए।” भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा, “15 साल की सत्ता विरोधी लहर के बावजूद हमारा प्रदर्शन बेहतर है। हमने नगर निगमों में दिल्ली के लोगों के कल्याण के लिए काम किया, लेकिन शायद कुछ लोग खुश नहीं हैं। हालांकि, भाजपा के खिलाफ कोई नाराजगी नहीं है।” दिल्ली भाजपा के उपाध्यक्ष विरेंद्र सचदेव ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा कि यह एक कड़ा मुकाबला है। उन्होंने कहा, “हालांकि, हम चुनाव बाद के सर्वेक्षणों को गलत साबित करेंगे और भाजपा लगातार चौथे कार्यकाल के लिए एमसीडी की सत्ता में आएगी।”

इसे भी पढ़ें: MCD में बहुमत की ओर AAP, भगवंत मान बोले- अब दिल्ली की होगी सफाई, केजरीवाल ने भाजपा को उखाड़ फेंका

इस बीच, ‘आप’ के कार्यालय में जश्न का माहौल है। पूरे परिसर को गुब्बारों से सजाया गया है और वहां लाउडस्पीकर पर देशभक्ति के गीत बजाए जा रहे हैं। पार्टी कार्यालय में गुब्बारे फुला रहे एक ‘आप’ कार्यकर्ता ने कहा, “इस बार एमसीडी में ‘आप’ ही आएगी, हमको पूरा भरोसा है।” नतीजों के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लोगों को संबोधित करने की संभावना है। दिल्ली नगर निगम के 250 वार्डों के लिए चार दिसंबर को चुनाव हुआ था, जिसमें 1,349 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई थी। एमसीडी चुनाव में 50.48 फीसदी मतदान दर्ज किया गया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़