गरीबों के लिए ‘रोटी, कपड़ा और मकान’ के वादे तो सबने किए, पूरा कर रही है मोदी सरकार: भाजपा

giriraj singh
केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भाजपा प्रवक्ता के के शर्मा के साथ पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस के शासन के 60 साल और भाजपा के शासन के आठ साल की तुलना करते हुए कहा कि 60 साल में केवल 3.26 करोड़ घर बने जबकि भाजपा के आठ सालों में 2.50 करोड़ से अधिक घर बनाने का काम किया गया।
नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शुक्रवार को कहा कि गरीबों के लिए ‘‘रोटी, कपड़ा और मकान’’ उपलब्ध कराने का वादा तो सभी पूर्ववर्ती सरकारों ने किया लेकिन इसे पूरा करने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली आज की केंद्र सरकार कर रही है। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भाजपा प्रवक्ता केके शर्मा के साथ पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस के शासन के 60 साल और भाजपा के शासन के आठ साल की तुलना करते हुए कहा कि 60 साल में केवल 3.26 करोड़ घर बने जबकि भाजपा के आठ सालों में 2.50 करोड़ से अधिक घर बनाने का काम किया गया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने प्रति वर्ष केवल 11 लाख मकान ही बनाए जबकि भाजपा सरकार ने करीब 35 लाख से अधिक मकान प्रति वर्ष बनाए। गिरिराज सिंह ने दावा किया कि कांग्रेस सरकार ने प्रति माह 94 हजार घर बनाए और उसके मुकाबले भाजपा की सरकार ने 2.62 लाख से ज्यादा आवास प्रति माह बनाए हैं। सिंह ने कहा, ‘‘रोटी, कपड़ा और मकान की चर्चा तो सब सरकारों ने की लेकिन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीब कल्याण योजना लाकर रोटी की व्यवस्था की और मकान एवं कपड़े की व्यवस्था और महिलाओं का सशक्तिकरण हम आवास योजना के द्वारा कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा कि अभी तक शहर में 58 लाख पक्के मकान बन चुके हैं और इसके लिए 1.18 लाख करोड़ रुपये शहरी गरीबों को दिए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी के तहत इस वर्ष नए 80 लाख आवास बनाने वाली है। 

इसे भी पढ़ें: बीरभूम हिंसा: CBI का बड़ा एक्शन, मुंबई से 4 लोगों को किया गिरफ्तार

केंद्रीय मंत्री ने इस अवसर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी आड़े हाथ लिया और कहा, ‘‘बंगाल ऐसा राज्य हो गया है जो संघीय ढांचे की व्यवस्था से अपने को बाहर रखना चाहता है, जिसके कारण वहां अव्यवस्था हो रही है।’’ उन्होंने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया वह योजनाओं के नाम ना बदलें और पात्र लाभार्थियों तक ही योजनाओं के लाभ पहुंचाएं। उन्होंने बताया कि पश्चिम बंगाल की सरकार ने अभी तक यह जानकारी भी नहीं उपलब्ध कराई है कि वहां आवास योजना के तहत कितने मकान बने हैं। ज्ञात हो कि भारतीय जनता पार्टी सात अप्रैल से 20 अप्रैल तक ‘‘सामाजिक न्याय पखवाड़ा’’ मना रही है। इसके तहत पार्टी ने प्रत्येक दिन एक या दो केंद्रीय योजनाओं का प्रचार-प्रसार करना तय किया है। पार्टी ने 8 अप्रैल का दिन पीएम आवास योजना के लिए नियत किया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़