मोदी UN महासभा में होंगे शामिल, ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम को करेंगे संबोधित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 20, 2019   09:01
मोदी UN महासभा में होंगे शामिल, ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम को करेंगे संबोधित

संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र को संबोधित करने के अलावा मोदी के कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ एक बैठक और ह्यूस्टन में भारतीय- अमेरिकी समुदाय की एक सभा ‘हाउडी मोदी’ को संबोधित करना भी शामिल है, जिसमें अमेरिकी नेता भी शामिल होंगे।

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार से सप्ताह भर लंबी अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) में आतंकवाद के मुद्दे पर नहीं, बल्कि भारत की उपलब्धियों और इसकी वैश्विक भूमिका को रेखांकित करेंगे। विदेश सचिव विक्रम गोखले ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। गोखले ने यह भी बताया कि जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को हटाना एक आंतरिक विषय है और यह संयुक्त राष्ट्र एजेंडा से बाहर है। संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र को संबोधित करने के अलावा मोदी के कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ एक बैठक और ह्यूस्टन में भारतीय- अमेरिकी समुदाय की एक सभा ‘हाउडी मोदी’ को संबोधित करना भी शामिल है, जिसमें अमेरिकी नेता भी शामिल होंगे।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस और JDS का दावा, PM ने येदियुरप्पा को समय देने से किया इनकार

गोखले ने बताया कि मोदी की अपनी इस यात्रा के दौरान सभी महाद्वीपों के नेताओं के साथ करीब 20 बैठक करने का कार्यक्रम है। इन बैठकों के कार्यक्रमों को अंतिम रूप दे दिया गया है। कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशें पाकिस्तान द्वारा तेज कर देने के मद्देनजर गोखले ने कहा, ‘‘यदि वह अपने प्रधानमंत्री (इमरान खान) के भाषण में इस मुद्दे को शामिल करना चाहते हैं तो ऐसा करने के लिए उनका स्वागत है।’’ गोखले ने कहा, ‘‘अनुच्छेद 370 एक आंतरिक विषय है, इस पर संरा में कोई चर्चा नहीं होगी, हम इस पर कोई चर्चा नहीं करेंगे।’’ विदेश सचिव ने कहा, ‘‘हमारे प्रधानमंत्री यूएनजीए के मुख्य विषयों पर ध्यान केंद्रित करेंगे--एक महत्वपूर्ण अर्थव्यवस्था और अहम देश के रूप में, संयुक्त राष्ट्र के एक जिम्मेदार सदस्य के रूप में- प्रधानमंत्री इस बात का उल्लेख करेंगे कि हम विकास, सुरक्षा, शांति और उम्मीदों के लिए तथा अन्य देशों की आकांक्षाओं के लिए काम कर रहे हैं।’’

प्रधानमंत्री विकास, जलवायु परिवर्तन और अन्य द्विपक्षीय एवं बहुपक्षीय मुद्दों को उठाएंगे, जिनमें आतंकवाद भी एक मुद्दा है लेकिन इस पर मुख्य जोर नहीं होगा बल्कि अंतरराष्टीय मंच पर भारत की भूमिका को रेखांकित किया जाएगा। कश्मीर मुद्दे में हस्तक्षेप करने की पेशकश करने की ट्रंपटिप्प्णियों पर गोखले ने कहा कि मोदी ने मीडिया के समक्ष इस मुद्दे पर भारत के रुख पूरी तरह से स्पष्ट कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘जो बहुत स्पष्ट है तथा व्यापक बयान है उसमें मैं और भी कुछ जोड़ना नहीं चाहता। भारत इस विषय में किसी के हस्तक्षेप के लिए कोई भूमिका की गुंजाइश नहीं देखता है।’’ प्रधानमंत्री मोदी का शनिवार को ह्यूस्टन में पहुंचने का कार्यक्रम है। वह एक दिन बाद भारतीय अमेरिकी समुदाय की एक सभा ‘हाउडी मोदी’ को संबोधित करेंगे।

इसे भी पढ़ें: हमें हर कश्मीरी को गले लगाना होगा, नया स्वर्ग बनाना होगा: नरेन्द्र मोदी

गोखले ने प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के बारे में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी की अमेरिका यात्रा 21 सितंबर दोपहर बाद से शुरू होकर 27 सितंबर तक चलेगी। इस दौरान दो शहर टेक्सास में ह्यूस्टन और न्यूयार्क उनकी यात्रा के प्रमुख केंद्र में होंगे।’’ उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री इस यात्रा के दौरान 27 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र को संबोधित करेंगे। विश्व महात्मा गांधी की 150वीं जयंती वर्ष मना रहा है, ऐसे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 24 सितंबर को एक विशेष कार्यक्रम ‘‘नेतृत्व का विषय: समसामयिक विश्व में गांधी की प्रासंगिकता’’ में शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में कुछ अन्य देशों के नेता भी शामिल होंगे।

Ram के लिए कोर्ट पर भरोसा रखें, बयानबहादुर बाज आएं, पूरी जानकारी के लिए देखें वीडियो:





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।