केरल में मोपला विद्रोह हिन्दुओं का योजनाबद्ध नरसंहार था : आदित्यनाथ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 26, 2021   08:04
केरल में मोपला विद्रोह हिन्दुओं का योजनाबद्ध नरसंहार था : आदित्यनाथ
प्रतिरूप फोटो

संघ से जुड़ी पत्रिका ‘पांचजन्य’ द्वारा मोपला विद्रोह पर आयोजित एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिस देश को अपना इतिहास नहीं पता है वह अपने भूगोल की रक्षा नहीं कर सकता है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केरल में 1921 में हुए मोपला विद्रोह को ‘‘हिन्दुओं का योजनाबद्ध नरसंहार’’ बताते हुए शनिवार को कहा कि समाज को मानवता को ‘जिहादी’ तत्वों से मुक्त कराने पर काम करना चाहिए।

उनका बयान ऐसे वक्त में आया है जब राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़ी विभिन्न संस्थाएं मोपला विद्रोह पर कार्यक्रमों का आयोजन कर रही हैं और इस घटना को ‘‘हिन्दुओं का नरसंहार’’ बता रही हैं। संघ से जुड़ी पत्रिका ‘पांचजन्य’ द्वारा मोपला विद्रोह पर आयोजित एक कार्यक्रम में आदित्यनाथ ने कहा कि इतिहास को सही परिप्रेक्ष्य से समझना महत्वपूर्ण है।

इसे भी पढ़ें: त्योहारों पर कानून-व्यवस्था और सांप्रदायिक सौहार्द बनाये रखने के लिए अधिकारियों को दिशानिर्देश जारी

उन्होंने कहा कि जिस देश को अपना इतिहास नहीं पता है वह अपने भूगोल की रक्षा नहीं कर सकता है। जिहादी तत्वों पर समाज में चर्चा की बात करते हुए भारतीय जनता पार्टी के नेता ने कहा, ‘‘यह समाज में गहन और गंभीर चर्चा का समय है। हमें सोचना होगा कि हम पूरी मानवता को जिहादी सोच से कैसे मुक्त करा सकते हैं और ऐसा वातावरण बना सकते हैं कि मालाबार नहसंहार जैसी घटना फिर से ना हो।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह जिहादी तत्वों द्वारा हिन्दुओं का नरसंहार था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।