मई से अब तक साइबर फर्जीवाड़ा पीड़ितों की दो करोड़ रुपये से ज्यादा रकम की वापसी : उत्तर प्रदेश पुलिस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 24, 2021   05:56
मई से अब तक साइबर फर्जीवाड़ा पीड़ितों की दो करोड़ रुपये से ज्यादा रकम की वापसी : उत्तर प्रदेश पुलिस
प्रतिरूप फोटो

उत्तर प्रदेश पुलिस ने वृहस्पतिवार को कहा कि अन्य 5 करोड़ रुपये विभिन्न बैंक खातों में जमा किए गए हैं, जिन्हें साइबर ठगों ने धोखाधड़ी से निर्दोष लोगों से छीन लिया था, जिसमें राज्य के बाहर के लोग भी शामिल थे।

नोएडा, 23 सितंबर उत्तर प्रदेश पुलिस ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसने इस साल मई से राज्य भर के निवासियों से साइबर अपराधियों द्वारा ठगे गए दो करोड़ रुपये से अधिक वापस लाए हैं और ऑनलाइन धोखाधड़ी के पीड़ितों को ऐसे मामलों की जानकारी 155260 पर तुरंत देने के लिए कहा है।

पुलिस ने कहा कि अन्य 5 करोड़ रुपये विभिन्न बैंक खातों में जमा किए गए हैं, जिन्हें साइबर ठगों ने धोखाधड़ी से निर्दोष लोगों से छीन लिया था, जिसमें राज्य के बाहर के लोग भी शामिल थे।

इसे भी पढ़ें: त्योहारों पर कानून-व्यवस्था और सांप्रदायिक सौहार्द बनाये रखने के लिए अधिकारियों को दिशानिर्देश जारी

पुलिस ने एक बयान में कहा, हाल के वर्षों में, दूर-दराज के राज्यों में बैठे साइबर अपराधियों ने भोले-भाले लोगों को निशाना बनाया है और ऑनलाइन माध्यमों का उपयोग करके उनके पैसे ठगे हैं। यूपी पुलिस की साइबर सेल धोखाधड़ी की ऐसी शिकायतों पर कार्रवाई करती रही है और समय-समय पर ठगे गए धन की वसूली में सक्षम भी रही है।

इसे भी पढ़ें: दिसंबर तक 20 साल के रजिस्ट्री के रिकार्ड डिजिटल हो जाएंगे : जायसवाल

पुलिस ने कहा, अब तक साइबर अपराधियों द्वारा लोगों से ठगे गए 2.02 करोड़ रुपये वापस लाए गए हैं, जबकि 5.09 करोड़ रुपये विभिन्न बैंक खातों में जमा किए गए हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...