कड़ी मेहनत से ओलम्पिक में गोल्ड जीतकर नीरज चोपड़ा किया देश का नाम रोशन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 23, 2021   20:37
कड़ी मेहनत से ओलम्पिक में गोल्ड जीतकर नीरज चोपड़ा किया देश का नाम रोशन

खेल मंत्री संदीप सिंह, सांसद नायब सिंह सैनी, चेयरमैन रणधीर गोलन, विधायक सुभाष सुधा, विधायक हरविन्द्र कल्याण ने रोड़ सभा की तरफ से ओलम्पियन नीरज चोपड़ा व ओलम्पियन सुरेन्द्र कुमार पालड़ के पिता मलखान सिंह को किया सम्मानित, ओलम्पियन नीरज चोपड़ा को सभा की तरफ से 5 लाख 11 हजार व केहर सिंह को भी किया सम्मानित

कुरुक्षेत्र  टोक्यो ओलम्पिक-2020 में सालों बाद देश को एथलेटिक्स में नीरज चोपड़ा ने गोल्ड मैडल और हॉकी में 40 साल के बाद देश को कांस्य पदक दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले सुरेन्द्र कुमार पालड़ पर हरियाणा ही नहीं पूरे देश को नाज है। इन दोनों खिलाडिय़ों को अखिल भारतीय रोड़ महासभा की तरफ से सम्मान देने के लिए एक सम्मान समारोह का आयोजन कुरुक्षेत्र के रोड़ भवन में किया गया।

 

इन दोनों खिलाडिय़ों को अखिल भारतीय रोड़ महासभा के पदाधिकारियों के साथ-साथ हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह, सांसद नायब सिंह सैनी, हरियाणा पर्यटन विकास निगम के चेयरमैन एवं पूंडरी के विधायक रणधीर गोलन, घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण ने सभा की तरफ से सम्मानित किया। इनमें मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवार्डी नीरज चोपड़ा को अखिल भारतीय रोड़ महासभा की तरफ से 5 लाख 11 हजार और ओलम्पियन सुरेन्द्र कुमार पालड़ को 2 लाख 11 हजार रुपए की राशि भी दी है।

 

इसे भी पढ़ें: पवित्र ग्रंथ गीता के लिए कुरुक्षेत्र के युवा खिलाड़ी दौड़ेंगे महोत्सव की गीता मैराथन में

 

मंगलवार को कुरुक्षेत्र रोड़ भवन में अखिल भारतीय रोड़ महासभा की तरफ से आयोजित सम्मान समारोह में मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवार्डी नीरज चोपड़ा की एक झलक पाने के लिए हर कोई व्याकुल था, जैसे ही ओलम्पियन नीरज कुमार चोपड़ा सम्मान समारोह में पहुंचे तो हर किसी ने खड़े होकर स्वागत किया और तालियां बजाकर खुशी का इजहार भी किया। इस सम्मान समारोह के मुख्यातिथि हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह, सांसद नायब सिंह सैनी, हरियाणा पर्यटन विकास निगम के चेयरमैन एवं पूंडरी के विधायक रणधीर गोलन, घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण, अखिल भारतीय रोड़ महासभा के प्रधान नसीब सिंह, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर, उपप्रधान राजकुमार, संयुक्त सचिव कुलदीप पबनावा, कोषाध्यक्ष जिले सिंह चौधरी, रामपाल पलवल, सचिव सुरेन्द्र कुमार, प्रेस सचिव धर्मवीर, सुरजीत, धर्मवीर खेड़ी रामनगर ने दोनो ओलम्पियन को सम्मानित करने के साथ-साथ अर्जुन अवार्डी डा. दलेल सिंह, मनोज कुमार, अंतर्राष्टï्रीय खिलाड़ी बलवंत सिंह बल्लू के भाई केहर सिंह, अजमेर सिंह, ओलम्पियन संदीप गोलन सहित अन्य कई राष्टï्रीय और अंतर्राष्टï्रीय खिलाडिय़ों को सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में खेलमंत्री संदीप सिंह ने अपने निजी कोष से सभा को 5 लाख रुपए, सांसद नायब सिंह सैनी ने 11 लाख रुपए, चेयरमैन रणधीर गोलन ने 11 लाख रुपए, विधायक सुभाष सुधा ने 21 लाख रुपए व विधायक हरविन्द्र कल्याण ने भी 11 लाख रुपए अनुदान राशि देने की घोषणा की है।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों को दी सौगात, जल्द मिलेंगे टैबलेट

हरियाणा के खेल एवं युवा मामले मंत्री संदीप सिंह ने हरियाणा और भारत की शान टोक्यो ओलम्पिक में गोल्ड मैडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा का कुरुक्षेत्र की पावन धरा पर पहुंचने पर स्वागत करते हुए कहा कि कुरुक्षेत्र धर्मनगरी में ध्यानचंद खेल रत्न अवार्डी नीरज चोपड़ा को अपने साथ पाकर एक सुखद एहसास हो रहा है। इस खिलाड़ी ने कई वर्षों की मेहनत के बाद यह मुकाम हासिल किया है। इस ओलम्पियन से सभी को प्रेरणा लेनी चाहिए और मेहनत करके देश के लिए मैडल जीतने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खिलाडिय़ों के हित में एक ओर फैसला लेते हुए 17 वर्ष से कम आयुवर्ग के नियमों में कुछ परिवर्तन किया है। इस नए नियम के अनुसार 10वीं, 11वीं और 12वीं का खिलाड़ी भी अंडर 17 आयुवर्ग में अपना प्रदर्शन कर सकेगा। इतना ही नहीं इस सरकार ने खिलाडिय़ों की डाईट में 125 से रुपए बढ़ाकर 400 रुपए करने का काम किया और ट्रैक सूट के लिए 400 रुपए की राशि को 1 हजार रुपए तक बढ़ाने का काम किया है।

इसे भी पढ़ें: भारत में इजरायल के राजदूत नाओर गिलोन ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से की मुलाकात

 उन्होंने कहा कि जहां पिछले सरकारों द्वारा अर्जुन अवार्डी, खेल रत्न और द्रोणाचार्य अवार्डियों को कुछ भी नहीं मिलता था। इस सरकार ने 20 हजार रुपए प्रतिमाह पैंशन देने की योजना को अमलीजामा पहनाने काम किया। सरकार ने आउटस्टेडिंग स्पोर्टस पालिसी के तहत पिछले डेढ़ साल में ए और बी ग्रेड के पदों पर 50 से 60 खिलाडिय़ों को सरकारी नौकरी दी और 19 खिलाडिय़ों को जूनियर कोच के पद पर नियुक्त करने का काम किया।

इस सरकार के कार्यकाल में मैडल लाने वाले खिलाड़ी को तुरंत नौकरी देने का प्रावधान किया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने युवाओं को शिक्षा और खेल के क्षेत्र में हर सुविधा उपलब्ध करवाई है। इतना ही नहीं बजट के दरवाजे भी शिक्षा और खेलों के लिए खोल रखे है। अब सिर्फ खिलाडिय़ों को मेहनत करने की जरुरत है, सुविधाएं उपलब्ध करवाना सरकार का काम है। उन्होंने अखिल भारतीय रोड़ महासभा को अपने निजी कोष से 5 लाख रुपए देने की भी घोषणा की है। ओलम्पियन नीरज चोपड़ा ने अखिल भारतीय रोड़ महासभा द्वारा सम्मान करने पर आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सभी युवाओं को अपने एक लक्ष्य बनाकर मंजिल की तरफ बढऩा चाहिए। इस मंजिल को हासिल करने के लिए अनेकों कठिनाईयां भी सामने आएंगी, लेकिन मेहनत और लग्न से अपना मुकाम हासिल करने का प्रयास करना चाहिए।

सासंद नायब सिंह सैनी ने कहा कि राज्य सरकार की तरफ से खेलों को बढ़ावा देने के लिए सराहनीय कार्य किया जा रहा है। इस सरकार ने खिलाडिय़ों को जो मान-सम्मान दिया है, वो आज तक किसी भी सरकार ने नहीं दिया है। इस सरकार ने खेल कोटे के तहत खिलाडिय़ों को हर श्रेणी में नौकरियां देने का काम किया है। सरकार की इस नीति से युवा वर्ग में खासा उत्साह है। चेयरमैन रणधीर सिंह गोलन ने कहा कि ओलम्पियन नीरज चोपड़ा और सुरेन्द्र कुमार पालड़ ने टोक्यो ओलम्पिक में स्वर्ण और कांस्य पदक जीतकर समाज के साथ-साथ देश का नाम पूरी दुनिया में रोशन किया है। इस उपलब्धि से युवा पीढ़ी को प्रेरणा मिली है।

 

विधायक सुभाष सुधा ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की नीतियों के कारण आज खेलों को बहुत अधिक बढ़ावा दिया जा रहा है। जो भी खिलाड़ी मैडल जीतकर आ रहा है, उस खिलाड़ी को करोड़ों रुपए इनाम राशि के साथ-साथ सरकारी नौकरियां दी जा रही है। इन खिलाडिय़ों ने हरियाणा का पूरे विश्व में मान बढ़ाने का काम किया है। इसको जिंदगी भी भुलाया नहीं जा सकेगा।

विधायक हरविन्द्र कल्याण ने कहा कि सरकार की नई खेल नीति के कारण खेल क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन आए है। इस नीति से खिलाड़ी पूरे जोश के साथ खेल मैदान पर अभ्यास कर रहे है, जिसके कारण देश को मैडल हासिल हुए है। इस कार्यक्रम में महासचिव एवं कार्यकारणी सदस्य सुरेंद्र कुमार, वरिष्ठ उपप्रधान रामपाल पलवल, प्रैस सचिव धर्मवीर खेड़ी, कार्यकारणी सदस्य अन्नत राम साकरा, राजकुमार पिंडारसी, रामपाल, जसबीर खनोदा सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।