नीट पीजी परीक्षा स्थगित नहीं, अब 21 मई को ही होगी, फर्जी एनबीईएमएस नोटिस के बाद पीआईबी का आया बयान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 7, 2022   18:04
नीट पीजी परीक्षा स्थगित नहीं, अब 21 मई को ही होगी, फर्जी एनबीईएमएस नोटिस के बाद पीआईबी का आया बयान
ani

पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) ने शनिवार को कहा कि इस साल की नीट-पीजी परीक्षा स्थगित नहीं की गई है और यह नौ मई की निर्धारित तारीख को ही होगी। इसने कहा राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड के नाम से जारी वह नोटिस ‘‘फर्जी’’ है जिसमें कहा गया है कि यह परीक्षा अब नौ जुलाई को होगी।

नयी दिल्ली। पत्र सूचना कार्यालय (पीआईबी) ने शनिवार को कहा कि इस साल की नीट-पीजी परीक्षा स्थगित नहीं की गई है और यह नौ मई की निर्धारित तारीख को ही होगी। इसने कहा राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड के नाम से जारी वह नोटिस ‘‘फर्जी’’ है जिसमें कहा गया है कि यह परीक्षा अब नौ जुलाई को होगी। आयुर्विज्ञान संबंधी राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड (एनबीईएमएस) ने भी शनिवार को हितधारकों को आगाह किया कि वे उसके नाम से जारी हो रही ‘‘फर्जी एवं मिथ्या सूचना’’ को लेकर सतर्क रहें। यह बयान मीडिया के एक तबके में आई इस खबर के बाद आया है कि इस साल की नीट-पीजी परीक्षा को स्थगित कर दिया गया है और अब यह नौ जुलाई को होगी।

इसे भी पढ़ें: रसोई गैस सिलेंडर के दाम 50 रुपये बढ़े, रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची कीमत

पत्र सूचना कार्यालय के ‘फैक्ट चेक’ हैंडल पर एक ट्वीट में कहा गया, राष्ट्रीय परीक्षा बोर्ड के नाम से जारी एक फर्जी नोटिस में दावा किया गया है कि नीट-पीजी परीक्षा स्थगित कर दी गई है और अब यह नौ जुलाई 2022 को आयोजित की जाएगी। परीक्षा स्थगित नहीं की गई है। यह 21 मई 2022 को ही होगी। एनबीईएमएस वर्तमान में अनुमोदित विशेषज्ञताओं में स्नातकोत्तर और पोस्ट-डॉक्टोरल परीक्षा आयोजित करता है, जिससे चिकित्सकों को क्रमशः डिप्लोमेट ऑफ नेशनल बोर्ड (डीएनबी) और डॉक्टरेट ऑफ नेशनल बोर्ड(डीआरएनबी) का दर्जा मिलता है।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान ने कोविड-19 से मौत के आंकड़े पर डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट को खारिज किया

शनिवार को जारी एक नोटिस में एनबीईएमएस ने कहा कि वह अपनी गतिविधियों से संबंधित विभिन्न नोटिस अपनी वेबसाइट पर ही प्रकाशित करता है। इसने कहा, हितधारकों को एनबीईएमएस के बारे में वर्तमान और प्रामाणिक जानकारी के लिए संबंधित वेबसाइट देखने की सलाह दी जाती है। एनबीईएमएस ने कहा कि उसके संज्ञान में आया है कि कुछ शरारती तत्व उसके नाम से फर्जी नोटिस का उपयोग कर झूठी और गलत जानकारी प्रसारित कर रहे हैं तथा हितधारकों को सतर्क रहना चाहिए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...