नेताजी सुभाष चंद्र बोस का महान बलिदान सदैव याद किया जाएगा- राज्यपाल

नेताजी सुभाष चंद्र बोस का महान बलिदान  सदैव याद किया जाएगा- राज्यपाल

उन्होंने नेता जी को एक महान क्रांतिकारी, सच्चा देशभक्त एवं राष्ट्रवादी बताते हुए कहा कि सुभाष चंद्र बोस एक महान वक्ता और पत्रकार थे जिन्होंने देश के बाहर बर्लिन में आजाद हिंद रेडियो की शुरुआत की और एक दर्जन देशी व विदेशी भाषाओं में प्रसारण शुरू किए। उनके इन कार्यक्रमों से देश और विदेशों में रह रहे भारतीयों के दिल दिमाग में स्वतंत्रता प्राप्ति की ज्वाला उठी।

चंडीगढ़  नेताजी सुभाष चंद्र बोस का महान बलिदान देश की स्वतंत्रता के लिए सदैव याद किया जाएगा। यह बात हरियाणा के राज्यपाल  बंडारू दत्तात्रेय ने रविवार को हैदराबाद में नेता जी की 125 वीं जयंती के अवसर पर उनकी मूर्ति पर माल्यार्पण करने के बाद जन ऊर्जा मंच द्वारा आयोजित उद्घोष कार्यक्रम में कही।

 

उन्होंने नेता जी को एक महान क्रांतिकारी, सच्चा देशभक्त एवं राष्ट्रवादी बताते हुए कहा कि सुभाष चंद्र बोस एक महान वक्ता और पत्रकार थे जिन्होंने देश के बाहर बर्लिन में आजाद हिंद रेडियो की शुरुआत की और एक दर्जन देशी व विदेशी भाषाओं में प्रसारण शुरू किए। उनके इन कार्यक्रमों से देश और विदेशों में रह रहे भारतीयों के दिल दिमाग में स्वतंत्रता प्राप्ति की ज्वाला उठी।

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री ने एसपीरेशनल डिस्ट्रीक प्रोग्राम क्रियान्वयन के लिए हरियाणा की सराहना की

दत्तात्रेय ने कहा कि "उनके तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा" नारे ने प्रत्येक भारतवासी के मन में जोश पैदा कर दिया था। देश की एकता अखंडता और मजबूती के लिए यह नारा आज भी प्रासंगिक है। नेताजी के महान बलिदान से प्रेरणा लेकर युवा पीढ़ी को राष्ट्रीय एकता और भारत के नव निर्माण के लिए कार्य करना होगा।

इसे भी पढ़ें: हरियाणा सरकार ने 12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण किए

उन्होंने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव की कड़ी में देश ने नेता जी को उनकी 125 वीं जयंती पर गौरवमयी ढंग से याद किया है। इससे प्रत्येक भारतवासी के मन में देशभक्ति की भावना और अधिक प्रबल होगी।उन्होंने कहा कि नेताजी  निस्वार्थ भाव से राष्ट्र की सेवा करने के लिए भारत की शक्ति,  प्रेरणा , अदम्य साहस और प्रबल भावना के प्रतीक हैं। उनके लिए गरीबी, अशिक्षा, बीमारी देश की सबसे बड़ी समस्याएं  थीं। उन्होंने कहा था कि हम भारत को आत्मनिर्भर बनाकर ही इन समस्याओं को दूर कर सकते हैं।  आज हम राष्ट्र को समृद्ध, उन्नत, अखण्ड तथा आत्मनिर्भर बनाने  के लिए कार्य करने का संकल्प लें, यही नेता जी सुभाष चन्द्र बोस को सच्ची श्रद्धांजलि होगी।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।