अमिताभ बच्चन वाली कोरोना ट्यून हटी,अब कोविड-19 टीके पर आधारित सुनाई देगी नई कॉलर ट्यून

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 18, 2021   12:47
  • Like
अमिताभ बच्चन वाली कोरोना ट्यून हटी,अब कोविड-19 टीके पर आधारित सुनाई देगी नई कॉलर ट्यून

कोविड-19 जागरूकता संबंधी कॉलर ट्यून से अमिताभ बच्चन की आवाज हटाई गई।याचिकाकर्ता ने कॉलर ट्यून से बच्चन की आवाज हटाने का इस आधार पर अनुरोध किया था कि अभिनेता स्वयं तथा उनके परिवार के कुछ अन्य सदस्य भी कोरोना वायरस से संक्रमित रह चुके हैं।

नयी दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय को सोमवार को सूचित किया गया कि कोविड-19 एहतियातों से संबंधित कॉलर ट्यून से अभिनेता अमिताभ बच्चन की आवाज हटा दी गई है इसलिए इसे हटाने की मांग करने वाली जनहित याचिका का औचित्य नहीं बचा है। उक्त कॉलर ट्यून कोरोना वायरस से बचने के लिए एहतियात और जागरूकता से संबंधित थी।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में बादल छाने के कारण न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा

मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की अध्यक्षता वाली पीठ को याचिकाकर्ता ने इस बारे में सूचित किया और कहा चूंकि कॉलर ट्यून से अभिनेता की आवाज हटा दी गई है इसलिए अब उनके द्वारा दायर याचिका का कोई औचित्य नहीं बचा है। इसके साथ ही अदालत ने याचिका का निबटारा कर दिया। याचिकाकर्ता ने कॉलर ट्यून से बच्चन की आवाज हटाने का इस आधार पर अनुरोध किया था कि अभिनेता स्वयं तथा उनके परिवार के कुछ अन्य सदस्य भी कोरोना वायरस से संक्रमित रह चुके हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


रिश्ते सुधारने की दिशा में आगे बढ़े भारत-पाक, सीमा पर शांति के लिए बनाई आपसी सहमति

  •  अनुराग गुप्ता
  •  फरवरी 25, 2021   13:09
  • Like
रिश्ते सुधारने की दिशा में आगे बढ़े भारत-पाक, सीमा पर शांति के लिए बनाई आपसी सहमति

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों देशों ने युद्धविराम समझौते को सख्ती से लागू करने पर सहमति जताई है। भारत और पाकिस्तान के बीच युद्धविराम 25 नवंबर 2003 की आधी रात को हुआ था। हालांकि, पाकिस्तान लगातार युद्धविराम का उल्लंघन करता आया है।

नयी दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशंस (डीजीएमओ) के बीच बुधवार को हॉटलाइन पर बातचीत हुई है। इसमें 2003 के युद्धविराम समझौते को नए सिरे से लागू करने पर सहमति बन गई है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में बताया था कि इस साल 28 जनवरी तक युद्धविराम के उल्लंघन की कुल 299 घटनाएं हुई हैं। जबकि पिछले साल 5133 बार युद्धविराम हुआ था। जिसके चलते नियंत्रण रेखा (एलओसी) के करीब रहने वाले लोगों को अपना घर-बार छोड़ना पड़ता है। हालांकि, इन घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए युद्धविराम समझौते को लागू करने पर सहमति बन गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दोनों देशों ने युद्धविराम समझौते को सख्ती से लागू करने पर सहमति जताई है। 

इसे भी पढ़ें: भारतीय सेना आंतरिक संचार के लिए SAI ऐप का शुरू कर सकती है उपयोग 

2003 में लागू हुआ था युद्धविराम

भारत और पाकिस्तान के बीच युद्धविराम 25 नवंबर 2003 की आधी रात को हुआ था। हालांकि, पाकिस्तान लगातार युद्धविराम का उल्लंघन करता आया है। बता दें कि आतंकियों को पनाह देने वाला पाकिस्तान अक्सर आतंकवादियों की भारत में घुसपैठ कराने की कोशिश करता आया है और यह किसी से छिपा नहीं है। इसी एवज में वह युद्धविराम का उल्लंघन करता आया है। 

इसे भी पढ़ें: LAC गतिरोध पर बोले सेना प्रमुख, सैनिकों का पीछे हटना दोनों पक्षों के लिए लाभकारी है 

युद्ध विराम के तहत युद्ध को या कहें संघर्ष को अस्थाई तौर पर रोकने का समझौता होता है और फिर समझौते करने वाले देश अक्रामक कार्रवाई नहीं करते हैं और यदि ऐसा होता है तो उसे उल्लंघन माना जाता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में ममता बनर्जी, इलेक्ट्रिक स्कूटर से पहुंची कार्यालय

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2021   13:09
  • Like
पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों के विरोध में ममता बनर्जी, इलेक्ट्रिक स्कूटर से पहुंची कार्यालय

पेट्रोल की बढ़ी कीमतों के विरोध में ममता इलेक्ट्रिक स्कूटर से कार्यालय पहुंची है। ममता बनर्जी ने हाजरा मोड़ से राज्य सचिवालय के बीच पांच किलोमीटर का सफर स्कूटर पर तय किया और इस दौरान सड़क के दोनों ओर लोग खड़े होकर मुख्यमंत्री का अभिभावदन करते नजर आए।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि के खिलाफ बृहस्पतिवार को आनोखे तरीके से विरोध दर्ज कराया। वह इलेक्ट्रिक स्कूटर पर बैठकर राज्य सचिवालय ‘नाबन्ना’ पहुंचीं। स्कूटर राज्य सरकार में मंत्री एवं कोलकाता के महापौर फिरहाद हकीम चला रहे थे।

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश: शराब पीने से मना करने पर व्यक्ति ने पत्नी को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

स्कूटर पर सवार ममता बनर्जी ने गले में तख्ती टांग रखी थी जिसपर ईंधन के दाम में वृद्धि के खिलाफ नारे लिखे थे। ममता बनर्जी ने हाजरा मोड़ से राज्य सचिवालय के बीच पांच किलोमीटर का सफर स्कूटर पर तय किया और इस दौरान सड़क के दोनों ओर लोग खड़े होकर मुख्यमंत्री का अभिभावदन करते नजर आए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


उत्तर प्रदेश: शराब पीने से मना करने पर व्यक्ति ने पत्नी को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2021   13:02
  • Like
उत्तर प्रदेश: शराब पीने से मना करने पर व्यक्ति ने पत्नी को पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

भदोही जिले के दुर्गागंज इलाके में शराब पीने को लेकर हुई कहासुनी में व्यक्ति ने पत्नी की पीट-पीटकर हत्या कर दी।दुर्गागंज थाने के प्रभारी रामजी यादव ने बताया कि इस मामले में राजेश कीतहरीर पर बनवारी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है।

भदोही (उत्तर प्रदेश)।भदोही जिले के दुर्गागंज इलाके में शराब के नशे में एक व्यक्ति ने कहासुनी के बाद पत्नी की लाठी से पीट-पीटकर कथित तौर पर हत्या कर दी। दुर्गागंज थाने के प्रभारी रामजी यादव ने बृहस्पतिवार को बताया किवारदात रामनगर गांव में बुधवार की रात उस समय हुई जब बनवारी मुसहर शराब के नशे में घर पहुंचा।उन्होंने बताया कि मुसहर की शराब पीने को लेकर पत्नी मुलैना (60) से कहासुनी हुई जिस पर उसने लाठी से उसकी पिटाई शुरू कर दी। उसने ईंट से मुलैना के चेहरे पर वार किया और जब तक उसे पीटता रहा जब तक उसकी मौत नहीं हो गई।

इसे भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय मंच से भारत ने पाकिस्तान की लगाई क्लास! उंगली उठाने से पहले अपने गिरेबान में झांके

उन्होंने बताया कि बनवारी ने पत्नी की हत्या करने के बाद उसका शव घर से कुछ दूरी पर एक नाले में फेंक दिया। उन्होंने बताया कि बृहस्पतिवार सुबह जब बनवारी का बेटा राजेश घर आया तो उसने मां के बारे में पूछा जिस पर उसने पूरी घटना बताई और भाग गया। यादव ने बताया कि इस मामले में राजेश कीतहरीर पर बनवारी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept