बिहार सरकार का नया फैसला, अब ठेकेदारों को देना होगा कैरेक्टर सर्टिफिकेट

बिहार सरकार का नया फैसला, अब ठेकेदारों को देना होगा कैरेक्टर सर्टिफिकेट

सरकार के काॅन्ट्रैक्ट में काॅन्ट्रैक्टरों को चरित्र प्रमाण पत्र लेना पड़ेगा। इसके साथ ही बस स्टाॅप, सब्जी मंडी जैसे पब्लिक हैंडलिंग काॅन्ट्रैक्ट वाले सभी टेंडर में ठेकेदारी करने वालों को भी अब चरित्र प्रमाण पत्र देना होगा।

बिहार की नीतीश सरकार ने एक बड़ा फैसला किया है। राज्य में अब काॅन्ट्रैक्टरों को चरित्र प्रमाण पत्र लेना पड़ेगा। बिहार के डीजीपी एसके सिंघल ने रुपेश हत्याकांड के तार पार्किंग ठेकेदारी विवाद से जुड़े होने की आशंका जताई थी। अब माना ये जा रहा है कि इन्हीं घटनाओं के मद्देनजर सरकार ने इसस तरह का फैसला लिया है।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली स्थित बिहार भवन में प्रासंगिक जानकारी प्रदान करने के लिए नई वेबसाइट लॉन्च

जिसके अंतर्गत सरकार के काॅन्ट्रैक्ट में काॅन्ट्रैक्टरों को चरित्र प्रमाण पत्र लेना पड़ेगा। इसके साथ ही बस स्टाॅप, सब्जी मंडी जैसे पब्लिक हैंडलिंग काॅन्ट्रैक्ट वाले सभी टेंडर में ठेकेदारी करने वालों को भी अब चरित्र प्रमाण पत्र देना होगा। 






नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।