• NHA के अधिकारी को लोकायुक्त पुलिस ने 3 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

सुयश भट्ट Jul 20, 2021 15:26

लोकायुक्त पुलिस ने बताया कि सिवनी जिला अस्पताल के मरम्मत और उन्नयन के कार्य का 44 लाख बिल था। जिसका फाइनल बिल 5 लाख रुपये बकाया था।वहीं रिश्वत नहीं देने पर आरोपी ने उनका बिल साल भर से अटका कर रखा था। जिसके बाद पीड़ित ठेकेदार ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस के पास की।

भोपाल। मध्य प्रदेश लोकायुक्त पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एनएचएम के प्रभारी कार्यपालन यंत्री को 3 लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। 

इसे भी पढ़ें:अपने 9 बच्चों के लिए बीजेपी विधायक ने बताया कांग्रेस को ज़िम्मेदार 

आपको बता दें कि लोकायुक्त पुलिस ने बताया कि सिवनी जिला अस्पताल के मरम्मत और उन्नयन के कार्य का 44 लाख बिल था। जिसका फाइनल बिल 5 लाख रुपये बकाया था। भोपाल के सतपुड़ा भवन में पदस्थ ऋषभ जैन ने बिल के एवज में जबलपुर निवासी ठेकेदार चंद्रभान विश्वकर्मा से 3 लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी।

इसे भी पढ़ें:देश की बड़ी समस्या है जनसंख्या वृद्धि, इसे करना होगा नियंत्रित: विश्वास सारंग 

वहीं रिश्वत नहीं देने पर आरोपी ने उनका बिल साल भर से अटका कर रखा था। जिसके बाद पीड़ित ठेकेदार ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस के पास की। बताया जा रहा है कि आरोपी रिश्वत लेने के लिए पीड़ित को हबीबगंज रेलवे स्टेशन बुलाया था। लेकिन वहां पहले से मौजूद लोकायुक्त की टीम ने उसे  2 लाख रुपये कैश और 1 लाख का चेक लेते हुए रंगे हाथों धर दबोचा।