कोरोना के बढ़ते प्रकोप और बाढ़ के चलते नीतीश कुमार की रैली स्थगित: जदयू

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 31, 2020   17:34
कोरोना के बढ़ते प्रकोप और बाढ़ के चलते नीतीश कुमार की रैली स्थगित: जदयू

नेपाल से निकलने वाली नदियों के उफना जाने से आयी बाढ़ के चलते उत्तर बिहार में करीब 40 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। जदयू ने कहा कि डिजिटल रैली की नयी तारीख बाद में तय की जाएगी। पार्टी के वरिष्ठ नेता पिछले दो सप्ताह से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं के लिए कार्यशालाएं लगाने में व्यस्त थे।

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अगले सप्ताह होने वाली बहुप्रतीक्षित डिजिटल रैली को स्थगित कर दिया गया है। सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के शीर्ष पदाधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। इस रैली के जरिये मुख्यमंत्री द्वारा विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल फूंकने की उम्मीद जतायी जा रही थी। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने एक बयान में कहा कि सात अगस्त की प्रस्तावित रैली कोरोना वायरस महामारी एवं बाढ़ के चलते स्थगित कर दी गयी है। 

इसे भी पढ़ें: नीतीश के पिछले 15 वर्ष के कार्यकाल को एक सुनहरे अध्याय के रूप में देख रही है जनता: राजीव रंजन

नेपाल से निकलने वाली नदियों के उफना जाने से आयी बाढ़ के चलते उत्तर बिहार में करीब 40 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। जदयू ने कहा कि डिजिटल रैली की नयी तारीख बाद में तय की जाएगी। पार्टी के वरिष्ठ नेता पिछले दो सप्ताह से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं के लिए कार्यशालाएं लगाने में व्यस्त थे। नीतीश कुमार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। इन कार्यशालाओं में राज्यसभा और लोकसभा में पार्टी के नेता क्रमश: आर सी पी सिंह और राजीव रंजन उर्फ लल्लन सिंह, राज्य के मंत्री संजय कुमार झा, बिजेंद्र यादव और अशोक चौधरी व्यस्त थे। 

इसे भी पढ़ें: बिहार चुनाव: कांग्रेस मीरा कुमार पर लगा सकती है दांव, नेताओं के बीच सुगबुगाहट तेज

राज्यसभा में जदयू के नेता और पार्टी महासचिव (संगठन) आर सी पी सिंह ने ही जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं में उत्साह जगाने के प्रयास के तहत ‘मैं भी हूं नीतीश कुमार’ नारा तैयार किया था। यह नारा जदयू की मीडिया शाखा के प्रमुख अमरदीप द्वारा लिखी गयी कविता से प्रेरित बताया गया है। यह नारा पिछले साल लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा द्वारा अपनाये गये नारे ‘ मैं भी चौकीदार’ जैसा ही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...