UP में संक्रमण दर कम होने पर भी टेस्टिंग जारी, 53 जिलों में नहीं मिला एक भी नया मामला

Covid Test
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार प्रदेश में बड़ी संख्या में संक्रमण कम होने के बावजूद, टेस्टिंग कम नहीं की जा रही है। गत एक दिन में कुल 2,27,740 सैम्पल की जांच की गयी है।

अपर मुख्य सचिव ‘सूचना’ नवनीत सहगल ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 3टी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट अभियान के साथ-साथ अभिनव प्रयोग करते हुए आशिंक कोरोना कर्फ्यू तथा टीकाकरण से प्रदेश में दूसरी लहर के कोरोना संक्रमण को नियंत्रित किया गया है। इस अभिनव प्रयोग में कोरोना संक्रमण में निरन्तर कमी आ रही है। प्रदेश में संक्रमण अन्य प्रदेशों की तुलना में न्यूनतम स्तर पर है। उन्होंने बताया कि 53 जिलों में संक्रमण का एक भी नया केस नहीं पाया गया, जबकि 22 जनपदों में इकाई अंक में मरीज पाए गए। प्रदेश में सक्रिय मामले कम होने पर भी कोविड-19 के टेस्ट करने की संख्या घटाई नहीं की जा रही हैं। सर्विलांस के माध्यम से निगरानी समितियों द्वारा घर-घर जाकर लोगों का हालचाल लिया गया तथा किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर टेस्ट के साथ बेहतर इलाज की भी व्यवस्था की गयी है। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश की बड़ी खबरें: स्वामी प्रसाद मौर्य बोले- अबतक 1 करोड़ से अधिक श्रमिकों का हुआ पंजीकरण 

सहगल ने बताया मुख्यमंत्री द्वारा कोविड-19 प्रबंधन हेतु गठित टीम-09 में निर्देश दिये गये है कि प्रदेशवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के प्रयासों के क्रम में सीएचसी/पीएचसी स्तर पर “हेल्थ एटीएम“ की स्थापना कराई जाए तथा इसे नजदीकी जिला अस्पताल की टेलीकन्सल्टेशन सेवा से भी जोड़ा जाए। मुख्यमंत्री द्वारा निर्देश दिये गये है कि अयोध्या के समग्र विकास के कार्यों की गति तेज की जाए। जिससे अयोध्या को विश्व स्तरीय सांस्कृतिक के रूप में स्थापित किया जा सके। मुख्यमंत्री द्वारा निर्देश दिये गये है कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे निर्माण के अवशेष कार्यों को तेजी से पूरा किया जाए। मुख्यमंत्री जी ने कहा कि तहसील दिवस और थाना दिवस में जन समस्याओं/शिकायतों/अपेक्षाओं के त्वरित समाधान किया जाए। प्राप्त होने वाले आवेदन पत्रों का निस्तारण समयबद्ध एवं गुणवत्ता के आधार पर किया जाए।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार प्रदेश में बड़ी संख्या में संक्रमण कम होने के बावजूद, टेस्टिंग कम नहीं की जा रही है। गत एक दिन में कुल 2,27,740 सैम्पल की जांच की गयी है। प्रदेश में अब तक कुल 6,42,77,972 सैम्पल की जांच की गयी है तथा आरटीपीसीआर के लिए 1,06,672 सैम्पल भेजे गये है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 33 नये मामले आये हैं। प्रदेश में विगत 24 घंटे में 64 लोग तथा अब तक 16,84,601 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना के कुल 857 एक्टिव मामले हैं। प्रदेश में रिकवरी रेट 98.6 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि सर्विलांस की कार्यवाही निरन्तर चल रही है। प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 3,58,64,032 घरों के 17,24,00,451 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: चुनावी राज्यों में भाजपा के लिए जमीन तैयार कर रहा संघ, सामने हैं कई बड़ी चुनौतियां 

प्रसाद ने बताया कि कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में 3,71,99,189 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज तथा 72,13,587 दूसरी डोज दी जा चुकी है। अब तक कुल 4,44,72,776 डोजें लगायी गयी हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत बच्चों के लिए आईसीयू बेड के साथ-साथ आवश्यक बेड तैयार कर लिये गये है तथा 234 ऑक्सीजन प्लांट भी अस्पतालों में संचालित हो गये है। निजी अस्पताल ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करने में सहयोग करे। प्रदेश में कोविड संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए कोविड प्रोटोकाल का भी पालन करे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़