भाजपा संसदीय दल की बैठक में PM मोदी का विपक्ष पर हमला, बोले- संसद नहीं चलने देना लोकतंत्र और जनता का अपमान है

भाजपा संसदीय दल की बैठक में PM मोदी का विपक्ष पर हमला, बोले- संसद नहीं चलने देना लोकतंत्र और जनता का अपमान है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विपक्ष संसद नहीं चलने दे रहा है। यह संसद, संविधान, लोकतंत्र और देश की जनता का अपमान है। दरअसल, पेगासस, कृषि कानून समेत कई मुद्दों को लेकर संसद की कार्यवाही लगातार बाधित हो रही है।

नयी दिल्ली। संसद की कार्यवाही शुरू होने से पहले मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक आयोजित हुई। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के अन्य नेताओं ने हिस्सा लिया। इस दौरान पीएम मोदी ने विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि विपक्ष संसद नहीं चलने दे रहा है। यह संसद, संविधान, लोकतंत्र और देश की जनता का अपमान है। दरअसल, पेगासस, कृषि कानून समेत कई मुद्दों को लेकर संसद की कार्यवाही लगातार बाधित हो रही है। 

इसे भी पढ़ें: पुरुष हॉकी सेमीफाइनल में बेल्जियम से हारा भारत, अब कांस्य के लिए खेलेगा; PM मोदी ने किया ट्वीट 

केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने बताया कि पीएम मोदी ने आज कहा कि हम शुरू से कह रहे हैं कि हम चर्चा के लिए तैयार हैं। एक माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है कि बिल सरकार के हैं, ये गलत है बिल गरीब लोगों के कल्याण के​ लिए हैं। पीएम की इच्छा है कि सार्थक और समृद्ध चर्चा होनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: अधीर रंजन चौधरी का दावा, भाजपा की मनमानी के चलते सहयोगी छोड़ रहे साथ, हो सकता है जेडीयू भी चली जाए

वहीं, दूसरी तरफ विपक्ष ने सरकार को घेरने की रणनीति तैयार की है। राहुल गांधी के न्योते पर कई प्रमुख विपक्षी दलों के नेता कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में नाश्ते पर मिले और रणनीति पर चर्चा की। इस बैठक को लेकर खड़गे ने कहा कि संसद में सरकार को घेरने की साझा रणनीति पर चर्चा के लिए यह बैठक बुलाई गई थी। उन्होंने यह भी कहा कि विपक्षी दल एकजुट हैं। हालांकि इस बैठक में बसपा और आम आदमी पार्टी के नेता शामिल नहीं हुए।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...