ओम बिरला ने किया ई-विधान प्रणाली का किया उद्घाटन, योगी बोले- अब सदन में मोटा बैग लाने की नहीं पड़ेगी ज़रूरत

Om Birla
ANI
अभिनय आकाश । May 20, 2022 12:29PM
ई-विधान प्रशिक्षण कार्यक्रम में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि उत्तर प्रदेश की विधानसभा शायद देश की सबसे बड़ी विधानसभा होगी, ये प्रदेश वो प्रदेश हैं जहां के सांसद देश के प्रधानमंत्री हैं।

उत्तर प्रदेश की 18वीं विधानसभा में नवनिर्वाचित विधायकों के प्रशिक्षण, प्रबोधन कार्यक्रम का आयोजन 20 और 21 मई को किया गया है। । राज्य की 18वीं विधानसभा में निर्वाचित विधायकों के प्रबोधन कार्यक्रम (प्रशिक्षण कार्यक्रम)का उद्घाटन 20 मई, को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना द्वारा किया जाएगा। इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना भी उपस्थित रहे। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में विधायकों के ई-विधान प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लिया। 

इसे भी पढ़ें: मुश्किल में लालू प्रसाद यादव! राबड़ी आवास पर सीबीआई ने मारा छापा, दिल्ली-पटना समेत लालू यादव के कुल 17 ठिकानों पर रेड

ई-विधान प्रशिक्षण कार्यक्रम में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि उत्तर प्रदेश की विधानसभा शायद देश की सबसे बड़ी विधानसभा होगी, ये प्रदेश वो प्रदेश हैं जहां के सांसद देश के प्रधानमंत्री हैं। राष्ट्रीय राजनीति के अंदर भी उत्तर प्रदेश की विशेष भूमिका रही है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब सदन में आपको बहुत मोटा बैग लाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी। विधायक जब सदन में आते थे तो अपने साथ सहायक को साथ लेकर चलते थे। बहुत बार उनकी सुरक्षाकर्मियों के साथ बहस होती थी कि उनका सहायक बैग लेकर सदन तक उनके साथ जाए। अब ई-विधान के बाद आपका काम सरल हो जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: लालू के 17 ठिकानों पर CBI छापा, रेल मंत्री रहते लगे थे भ्रष्‍टाचार के आरोप, RJD समर्थकों का हंगामा

21 मई को सुबह 11:30 बजे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल मुख्य अतिथि के रूप में समारोह का समापन करेंगी। समापन समारोह में मुख्यमंत्री योगी भी विधायकों को संबोधित करेंगे। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश की 403 सदस्यीय विधानसभा का निर्वाचन मार्च में संपन्न हुआ। विधानसभा की वेबसाइट के अनुसार कुल 403 सदस्यों वाली विधानसभा में 128 सदस्य पहली बार निर्वाचित होकर आये हैं।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़