उत्तर प्रदेश की खबरें: नंद गोपाल गुप्ता बोले- हमारी सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास लेकर कर रही कार्य

Yogi Adityanath up
नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने कहा कि इसके पूर्व आप लोगों ने सरकारों को देखा है और इस सरकार में भी कार्य कर रहे हैं यह सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास लेकर कार्य कर रही है।

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्म दिवस से प्रारंभ ‘सेवा-समर्पण सप्ताह’ के अंतर्गत प्रतिदिन आयोजित सेवा कार्यक्रमों की श्रृंखला में आज प्रदेश की महिला कल्याण, बाल विकस एवं पुष्टाहार राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मती स्वाती सिंह द्वारा विधानसभा क्षेत्र सरोजनी नगर में ग्राम भदोही एवं ग्राम मवई में ‘स्वावलंबन कैंप’ का आयोजन किया गया स इस अवसर पर मंत्री जी ने उपस्थित वृद्धजनों, निराश्रित महिलाओं एवं दिव्यांग जनों से उनके स्वास्थ्य संबंधी कुशलता से अवगत होते हुए उनके पेन्शन संबंधी असुविधाओं का निराकरण किया गया तथा नवीन लाभार्थियों को सूचीबद्ध करने का कार्य प्रारंभ किया गया। इस अवसर पर ‘कृषिका’ के तत्वाधान में आयोजित किसान गोष्ठी कार्यक्रमों में उपस्थित होकर मंत्री जी ने किसान भाईयों से उनकी खेती बाडी का हालचाल लिया तथा उन्हें प्राप्त होने वाले ‘किसान सम्मान निधि’ की जानकारी प्राप्त की ‘किसान संगोष्ठी’ में क्षेत्रीय किसानों को जैविक खेती, शून्य बजट आधारित कृषि, औषधीय पौधों की खेती तथा कृषि उत्पादों के विपणन के संबंध में विशेषज्ञों द्वारा विशिष्ट जानकारियाँ प्रदान की गयी स मंत्री जी ने कार्यक्रम में उपस्थित समस्त ग्राम वासियों के प्रति आभार व्यक्त किया। 

इसे भी पढ़ें: UP में कोरोना के 17 नए मामले दर्ज, 173 लोग होम आइसोलेशन में रखा गया 

शराब के अवैध ठिकानों पर कार्रवाई जारी

संजय आर भूसरेड्डी, अपर मुख्य सचिव, आबकारी के निर्देशन में आबकारी विभाग द्वारा अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी की रोकथाम हेतु लगातार दबिश की कार्यवाही की जा रही है। आबकारी विभाग द्वारा माह सितम्बर में अब तक प्रदेश में 3964 मुकदमे पकड़े़ गये, जिसमें 89,024 ली. अवैध शराब बरामद की गयी तथा शराब बनाने हेतु तैयार किये गये गये तथा 3,91,341 कि.ग्रा. लहन को मौके पर नष्ट किया गया। अवैध मदिरा के कार्य में संलिप्त 1,488 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया तथा 31 वाहन जब्त किये गये।

संजय आर0 भूसरेड्डी, अपर मुख्य सचिव, आबकारी द्वारा अवगत कराया गया कि दैनिक प्रवर्तन कार्यवाही के दौरान बीते दिन प्रदेश में 190 मुकदमे दर्ज किये गये, जिसमें 4,249 ली. अवैध शराब की बरामदगी की गयी तथा लगभग 14,313 कि.ग्रा. लहन एवं कई भट्ठियों को मौके पर नष्ट किया गया। शराब के कारोबार में संलिप्त 62 व्यक्तियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध आबकारी अधिनियम एवं आईपीसी की सुसंगत धाराओं में कार्यवाही की गयी तथा 01 वाहन बरामद किया गया।

सेंथिल पांडियन सी., आबकारी आयुक्त, उत्तर प्रदेश द्वारा बताया गया कि प्रदेश में अवैध शराब के निर्माण, बिक्री एवं तस्करी पर पूरी तरह से अंकुश लगाने के लिए आबकारी विभाग द्वारा लगातार छापेमारी की जा रही है। बीते दिन जनपद लखनऊ में 50 लीटर कच्ची शराब बरामद करते हुए 200 किलोग्राम लहन नष्ट किया गया तथा 04 अभियोग पंजीकृत किये गये। फतेहपुर जनपद में अवैध अड्डों पर दबिश कार्यवाही की गई तथा 15 लीटर कच्ची शराब बरामद कर 80 किलोग्राम लहन नष्ट करते हुए 02 मुकदमे दर्ज किये गये। जनपद गोण्डा में 10 लीटर कच्ची शराब बरामद कर लगभग 100 किलो ग्राम लहन नष्ट करते हुए 01 अभियोग पंजीकृत किया गया। हरदोई में लगभग आधा दर्जन ठिकानों पर दबिश कार्यवाही की गयी, जिसमें 25 लीटर कच्ची शराब बरामद कर 250 किलोग्राम लहन नष्ट करते हुए 2 अभियोग दर्ज किये गये। गोरखपुर में 60 लीटर कच्ची शराब बरामद कर 02 अभियोग पंजीकृत किया गया तथा जनपद बांदा में 25 लीटर कच्ची शराब बरामद करते हुए 100 किलोग्राम लहन नष्ट किया गया। बस्ती में 18 लीटर कच्ची शराब जब्त की गई तथा 300 किलोग्राम लहन, 03 चढ़ी भठ्ठियों को मौके पर नष्ट करते हुए 01 अभियोग दर्ज किया गया। जनपद देवरिया में दबिश के दौरान लगभग 22 लीटर कच्ची शराब बरामद करते हुए 01 अभियोग पंजीकृत किया गयाद्य औरैया में दबिश के दौरान एक व्यक्ति के कब्जे से देशी शराब के अपमिश्रित 23 पौवे के साथ 400 ग्राम यूरिया बरामद करते हुए अभियुक्त के विरूद्ध आबकारी अधिनियम व आईपीसी की सुसंगत धाराओं में अभियोग दर्ज कराया गया।

इसी क्रम में आबकारी आयुक्त द्वारा अवगत कराया गया कि प्रवर्तन कार्यवाही के दौरान जनपद शामली के ग्राम कंडेला मे दो व्यक्तियों के पास से 10 लीटर कच्ची शराब तथा हरियाणा राज्य निर्मित 48 पौवे, अवैध शराब के साथ एक मोटरसाइकिल बरामद करते हुए अभियुक्त के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया गया। प्रयागराज में दबिश के दौरान 45 लीटर कच्ची शराब बरामद किया गया तथा 250 किलोग्राम लहन एवं 4 भट्टियों को नष्ट करते हुए दो अभियोग पंजीकृत किये गये। जनपद सिद्धार्थनगर में कई संदिग्ध अड्डों पर दबिश देकर 35 लीटर कच्ची शराब बरामद किया गया तथा 600 किलोग्राम लहन नष्ट किया गया एवं 02 अभियोग पंजीकृत किये गये। इसी प्रकार जनपद मिर्जापुर में 15 ली0 अवैध शराब बरामद कर 02 चढ़ी भट्ठी तथा 500 किलोग्राम लहन नष्ट करते हुए एक अभियोग दर्ज किया गया। खीरी जनपद में शराब के अवैध अड्डों पर छापेमारी कर 342 लीटर कच्ची शराब बरामद किया गया तथा 2200 किग्रा लहन नष्ट करते हुए 10 अभियोग पंजीकृत किये गये। कासगंज में 18 लीटर कच्ची शराब बरामद कर लगभग 30 किलोग्राम लहन नष्ट किया गया तथा 01 अभियोग पंजीकृत किया गया। कन्नौज एवं फर्रूखाबाद में 10-10 लीटर तथा देवरिया में 15 लीटर कच्ची शराब बरामद कर कुल 250 किलोग्राम लहन मौके पर नष्ट करते हुए एक-एक अभियोग दर्ज किये गये। शाहजहॉंपुर जनपद में 60 लीटर शराब बरामद करते हुए 500 किलोग्राम लहन नष्ट किया गया। कुशीनगर में दबिश के दौरान 20 लीटर अवैध शराब तथा 20 शीशी देशी शराब बरामद करते हुए 02 अभियोग पंजीकृत किये गये। इसी प्रकार महाराजगंज में 50 लीटर कच्ची शराब बरामद कर 2000 किग्रा लहन नष्ट किया गया तथा 03 अभियोग दर्ज किये गये। जनपद प्रतापगढ़ में अलग-अलग स्थानों पर दबिश कार्यवाही करते हुए 90 लीटर कच्ची शराब बरामद कर 350 किलोग्राम लहन एवं शराब बनाने के उपकरण नष्ट किया गया तथा 4 अभियोग पंजीकृत किये गये। रायबरेली में 35 लीटर कच्ची शराब बरामद कर 150 किलोग्राम लहन नष्ट किया गया और 03 लोगों के विरूद्ध आबकारी अधिनियम के अन्तर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया। गाजीपुर में 18 लीटर, महोबा में 15 लीटर, बहराइच में 15 लीटर तथा बिजनौर में 45 लीटर कच्ची शराब बरामद करते हुए आबकारी अधिनियम की सुसंगत धाराओं में अभियोग दर्ज किये गये। जनपद गौतमबुद्धनगर में एक व्यक्ति के पास से 29 पौवे मिस इंडिया ब्राण्ड की अवैध शराब बरामद कर अभियुक्त के विरूद्ध मुकदमा दर्ज किया गया। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश की बड़ी खबरें: 13 जनपदों में 293 गांव बाढ़ से प्रभावित, फूड पैकेट किए जा रहे वितरित  

आबकारी आयुक्त द्वारा बताया गया कि दैनिक प्रवर्तन कार्यवाही में प्रदेश में आबकारी विभाग द्वारा अवैध शराब के निर्माण व बिक्री के अड्डों के साथ-साथ अन्य प्रदेश की सीमा से लगे जनपदों में वाहनों की चेकिंग लगातार कराई जा रही है। इसके अतिरिक्त लाइसेंसी दुकानों के स्टाक को भी गहनता से चेक किया जा रहा है।

उपेन्द्र तिवारी ने युवा कल्याण विभाग के अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक

उत्तर प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेन्द्र तिवारी ने युवा कल्याण विभाग के अधिकारियों के साथ सचिवालय स्थित अपने कार्यालय कक्ष में समीक्षा बैठक की। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों से खेल प्रोत्साहन सामग्री के वितरण की वर्तमान स्थिति क्या है की जानकारी ली, एवं इसका वितरण जन-प्रतिनिधियों की उपस्थिति में यथाशीघ्र कराने का निर्देश दिया। खेल प्रोत्साहन सामग्री की पूर्व में हुए वितरण की जांच करने के निर्देश भी विभागीय अधिकारियों को दिये।

तिवारी ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिये कि किसी भी परिस्थिति में जिला युवा कल्याण अधिकारी को एक से अधिक जिलों का प्रभार न दिया जाय। जहां जिला युवा कल्याण अधिकारी न हों वहां सीनियर ब्लाक आर्गेनाइजर को प्रभार दिया जाय। उपेन्द्र तिवारी ने ग्रामीण खेल प्रतियोगिता के बारे में संबंधित अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की। कितने प्रकार की खेल प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं तथा कितना बजट है के बारे में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि व्यापक प्रचार-प्रसार के साथ स्कूलों, कॉलेजों के प्रिंसिपल से बात करें एवं उनके यहां से खिलाड़ियों के प्रतिभाग करने की व्यवस्था करायें। उपलब्धता के बाद ही ब्लाक स्तर पर प्रतियोगिता आयोजित करवायें। उन्होंने प्रतियोगिता से सम्बंधित तिथियों में भी संशोधन करने के लिए अधिकारियों से कहा।

उपेन्द्र तिवारी ने सम्बंधित अधिकारियों से पी0आर0डी0 जवानों के ड्यूटी ऑनलाइन फीडिंग के बारे में भी जानकारी प्राप्त की एवं शेष बचे फीडिंग कार्य को यथाशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश भी दिये। उन्होंने कहा कि ऑनलाइन डाटा फीडिंग से ड्यूटी लगाने सहित अन्य कार्यों में पारदर्शिता आयेगी एवं ड्यूटी विसंगतियां भी दूर होंगी।

इस बैठक में उप सचिव फलेन्द्र पाल सिंह, उप निदेशक युवा कल्याण अजातशत्रु शाही, सी0पी0 सिंह, शिल्पी पाण्डेय, मेघना सोनकर सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे। 

इसे भी पढ़ें: संगीत सोम बोले- जहां-जहां मंदिर तोड़कर बनाई गईं मस्जिदें, वहां भाजपा फिर से बनाएगी मंदिर 

चालू सेतुओं के निर्माण कार्य हेतु धनराशि आवंटित

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के निर्देशों के क्रम में राज्य योजना (सामान्य) के अन्तर्गत विभिन्न जनपदों के 18 चालू सेतुओं के निर्माण कार्य हेतु रू0 29 करोड़ 98 लाख 28 हजार की धनराशि उ0प्र0 शासन द्वारा आवंटित की गयी है। इस सम्बन्ध में आवश्यक शासनादेश उ0प्र0 शासन लोक निर्माण विभाग द्वारा जारी कर दिया गया है।

इन 18 चालू सेतुओं में जनपद बलिया में 04, गोरखपुर व शाहजहॉपुर में 03-03, मिर्जापुर व बरेली में 02-02 तथा बहराइच, अलीगढ़, लखनऊ व पीलीभीत में 01-01 निर्माण कार्य सम्मिलित हैं। जारी शासनादेश में सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि कार्य की विशिष्टियां, मानक एवं गुणवत्तानुरूप तथा आवंटित धनराशि का व्यय वित्तीय हस्तपुस्तिकाओं के सुसंगत प्राविधानों एवं समय-समय पर शासन द्वारा निर्गत शासनादेशों के दृष्टिगत किया जाय।

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने निर्देश दिये हैं कि इन कार्यों में वित्तीय नियमों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किया जाय एवं परियोजना को ससमय पूर्ण किया जाय तथा जारी शासनादेशों में उल्लिखित दिशा-निर्देशों का अनुपालन हर हाल में सुनिश्चित किया जाय।

सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास लेकर कार्य कर रही सरकार

उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण, मुस्लिम वक्फ एवं हज, नागरिक उड्डयन, राजनैतिक पेंशन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी की अध्यक्षता में व राज्यमंत्री लोक निर्माण विभाग उत्तर प्रदेश सरकार चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय, चंद्र प्रकाश खरे की उपस्थिति में कानून व्यवस्था एवं विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों, नीति आयोग, जिला योजना समिति आदि विभिन्न बिंदुओं की समीक्षा बैठक चित्रकूट के तहसील सभागार राजापुर में संपन्न हुई।

नंदी ने कहा कि देश की बागडोर परम तपस्वी नरेंद्र मोदी के हाथ में है जो देश के करोड़ों लोगों की चिंता करते हैं वही प्रदेश की भी सौभाग्य की बात है कि कर्म योगी के रूप में प्रदेश के अंतिम गांव के व्यक्ति के प्रति समर्पित प्रदेश की जनता के क्षण क्षण के लिए समर्पित रहने वाले मुख्यमंत्री के हाथ प्रदेश की बागडोर है जो निरंतर विकास को लेकर चिंतित रहते हैं। उन्होंने कहा कि इसके पूर्व आप लोगों ने सरकारों को देखा है और इस सरकार में भी कार्य कर रहे हैं यह सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास लेकर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी ने जनपद के प्रभारी मंत्रियों को निर्देश दिए हैं कि जो सरकारी योजनाएं संचालित की जा रही हैं वह सुदूर क्षेत्र के अंतिम पायदान के खड़े व्यक्ति को मिले यह हम आप लोगों को सुनिश्चित करना है जिन विभागों को जो समस्या हो वह बताएं उसका समाधान कराया जाएगा ।

प्रभारी मंत्री नंदी ने कानून व्यवस्था के संबंध में पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल से विभिन्न बिंदुओं की जानकारी ली और कहा कि संबंधित पुलिस अधिकारियों को क्षेत्र में भ्रमण कराकर अपराधियों के खिलाफ कार्यवाही सुनिश्चित कराई जाए, महिला उत्पीड़न के जो मामले हैं उनको तत्काल निस्तारण कराएं, उसमें जो दोषी हो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करें।उन्होंने कहा कि जिन विभागों को विकास कार्यों की जिम्मेदारी दी गई है वह अपने विभाग के कार्यों की पूर्ण तैयारी के साथ बैठक में रहकर स्पष्ट योजनाओं के बारे में जानकारी दें। 

इसे भी पढ़ें: यूपी में बढ़ेगी ओवैसी और राजभर की ताकत, भागीदारी संकल्प मोर्चा को मिला चन्द्रशेखर का साथ 

नंदी ने जल जीवन मिशन, बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे, डिफेंस कॉरिडोर, हवाई पट्टी का निर्माण, कर करेत्तर, कानून व्यवस्था, सामुदायिक शौचालय निर्माण, पंचायत भवन निर्माण, सड़कों के निर्माण, सेतुओ का निर्माण, सोलर सिंचाई पंप, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, खाद्यान्न वितरण, अपशिष्ट प्रबंधन, कन्या सुमंगला योजना, पशुओं का टीकाकरण, मत्स्य पालन, औद्मानीकरण, ईयर टैगिंग, चिकित्सकों की उपलब्धता, आयुष्मान भारत योजना, मातृ वंदना योजना, परिवार नियोजन, हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर, टेलीमेडिसिन, बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, जननी सुरक्षा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, टीकाकरण, संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी तथा ग्रामीण, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, पेंशन योजनाएं शादी अनुदान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, पोषण अभियान, आंगनबाड़ी केंद्रों के निर्माण, वनीकरण, कौशल विकास, स्वरोजगार योजना, श्रम योगी मानधन योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, आजीविका मिशन, उर्वरक उपलब्ध आदि विभिन्न योजनाओं की बिंदुवार समीक्षा की।

बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ भूपेश द्विवेदी, समस्त उपजिलाधिकारी, परियोजना निदेशक ऋषि मुनि उपाध्याय, जिला पंचायत राज अधिकारी तुलसीराम सहित संबंधित अधिकारी व जन प्रतिनिधि मौजूद रहे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़