Parliament Budget Session | बजट सत्र से पहले पीएम मोदी का संबोधन, कहा- सभी सांसद संसद को गंभीरता से चलने दें, चुनाव आते-जाते रहेंगे

PM Modi
रेनू तिवारी । Jan 31, 2022 10:51AM
बजट सत्र से पहले पीएम मोदी ने प्रेस को संबोधित किया। पीएम मोदी विपक्ष से अपील की कि वह सदन को सुचारू रूप से चलने दे। वह हर मुद्दे पर चर्चा करने के लिए तैयार हैं लेकिन सदन की गरीमा को बनाये रखते हुए। उन्होंने कहा कि चुनाव अपनी जगह है चलते रहेंगे लेकिव सदन अपनी जगह है।

बजट सत्र से पहले पीएम मोदी ने प्रेस को संबोधित किया। पीएम मोदी विपक्ष से अपील की कि वह सदन को सुचारू रूप से चलने दे। वह हर मुद्दे पर चर्चा करने के लिए तैयार हैं लेकिन सदन की गरीमा को बनाये रखते हुए। उन्होंने कहा कि चुनाव अपनी जगह है चलते रहेंगे लेकिव सदन अपनी जगह है। उन्होंने दोनों को मर्ज करने सदन की कार्यवाही को बाधित न करने की अपील की। पीएम मोदी ने कहा कि कोविड महामारी ने भारत के लिए कई चुनौतियों के साथ-साथ अवसरों को भी जन्म दिया है।

इसे भी पढ़ें: Corona cases in India | भारत में कोविड के केस कम लेकिन डराने लगा मौत का आंकड़ा, पिछले 24 घंटे में 959 ने गंवाई जान

पीएम ने कहा यह सच है कि चुनाव सत्रों और चर्चाओं को प्रभावित करते हैं। लेकिन मैं सभी सांसदों से अनुरोध करता हूं कि चुनाव चलेंगे लेकिन Budget Session पूरे साल का खाका खींच लेता है। हम इस सत्र को जितना अधिक फलदायी बनाएंगे, देश को आर्थिक ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए शेष वर्ष के लिए बेहतर अवसर होगा।

इसे भी पढ़ें: भाजपा के ‘सांप्रदायिक चेहरे’ को उजागर करें: द्रमुक प्रमुख स्टालिन ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा

पेगासस स्पाइवेयर, भारत-चीन सीमा मुद्दे आज बजट सत्र में उठाए जा सकते हैं

मुख्य विपक्षी दल, कांग्रेस ने कहा है कि वह बजट सत्र के दौरान किसानों के संकट, चीन-भारत सीमा विवाद, कोविड -19 राहत, एयर इंडिया की बिक्री आदि मुद्दों को उठाने के लिए समान विचारधारा वाले दलों तक पहुंचेगा।

निर्मला सीतारमण कल पेश करेंगी 2022-23 का आम बजट

संसद का बजट सत्र आज से शुरू होने जा रहा है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आर्थिक सर्वेक्षण 2021-22 पेश करेंगी और कल अपना लगातार चौथा केंद्रीय बजट वित्तीय वर्ष 2022-23 (अप्रैल 2022 से मार्च 2023) के लिए वित्तीय विवरणों और कर प्रस्तावों के साथ पेश करेंगी। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़