Mumbai को PM Modi का तोहफा, कई परियोजनाओं का किया उद्घाटन, बोले- अभूतपूर्व आत्मविश्वास से भरा हुआ है भारत

Modi in Mumbai
ANI
अंकित सिंह । Jan 19, 2023 6:24PM
नरेंद्र मोदी ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार न्यू इंडिया के बड़े सपने हैं और उन्हें साकार करने का हौसला है। वरना पिछली सदी का एक लंबा दौर ऐसा रहा है जो गरीबी की चर्चा और विदेशियों से मदद मांगने में खो गया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में लगभग 38,800 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में मोदी ने कहा कि आज मुंबई के विकास से जुड़े 40 हजार करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास आज यहां हुआ है। ये सब मुंबई शहर को बेहतर बनाए वाले सिद्ध होने वाले हैं। मैं सभी लाभार्थियों और मुंबई के निवासियों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि हमारे यहां तो पिछली सदी का एक लंबा कालखंड सिर्फ और सिर्फ गरीबी की चर्चा करने और दुनिया से मदद मांगने... जैसे तैसे गुजरा करने में ही बीत गया। आज दुनिया को भी भारत के बड़े-बड़े संकल्पों पर भरोसा है।

इसे भी पढ़ें: PM Modi के सामने बोले फडणवीस, 2.5 साल तक लोगों को पसंद नहीं करने वाली सरकार थी, लेकिन एकनाथ शिंदे ने साहस दिखाया...

नरेंद्र मोदी ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार न्यू इंडिया के बड़े सपने हैं और उन्हें साकार करने का हौसला है। वरना पिछली सदी का एक लंबा दौर ऐसा रहा है जो गरीबी की चर्चा और विदेशियों से मदद मांगने में खो गया। उन्होंने कहा कि मुंबई के लिए बेहद जरूरी मेट्रो हो, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के आधुनिकीकरण का काम हो, सड़कों में सुधार का बहुत बड़ा प्रोजेक्ट हो और बाला साहेब ठाकरे जी के नाम से आपला दवाखाने की शुरुआत हो, ये मुबंई शहर को बेहतर बनाने में बड़ी भूमिका निभाने वाले हैं। मोदी ने कहा कि भारत को लेकर दुनिया में इतनी सकारात्मकता इसलिए है क्योंकि आज सभी को लगता है कि भारत अपने सामर्थ्य का बहुत ही उत्तम तरीके से सदुपयोग कर रहा है। आज भारत अभूतपूर्व आत्मविश्वास से भरा हुआ है।

मोदी ने कहा कि गरीबों के कल्याण के लिए आने वाले धन को बिचौलियों द्वारा हड़प लिया जाता था। पिछले 8 वर्षों में हमने इस दृष्टिकोण को हटा दिया है और आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर खर्च बढ़ाकर भविष्यवादी सोच के साथ आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि विकसित भारत के निर्माण में हमारे शहरों की भूमिका सबसे अहम है। वर्ष 2014 तक मुंबई में केवल 10-11 किलोमीटर तक मेट्रो चलती थी लेकिन हमारी डबल इंजन की सरकार ने मेट्रो के काम को अभूतपूर्व गति दी है। उन्होंने कहा कि दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाएं आज उथल-पुथल में हैं जबकि भारत 80 करोड़ भारतीयों को मुफ्त राशन देना जारी रखे हुए है। वैश्विक मंदी के बीच भी, भारत ने बुनियादी ढांचे में निवेश करना जारी रखा है, जो एक विकसित राष्ट्र होने की दिशा में उसकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।  

अन्य न्यूज़