समाजवादी पार्टी पर बरसे PM मोदी, कहा- लाल टोपी वाले यूपी के लिए Red Alert, उन्हें सिर्फ लाल बत्ती से मतलब

समाजवादी पार्टी पर बरसे PM मोदी, कहा- लाल टोपी वाले यूपी के लिए Red Alert, उन्हें सिर्फ लाल बत्ती से मतलब

मोदी ने कहा कि लाल टोपी वालों को सरकार बनानी है, आतंकवादियों पर मेहरबानी दिखाने के लिए, आतंकियों को जेल से छुड़ाने के लिए। और इसलिए, याद रखिए, लाल टोपी वाले यूपी के लिए रेड अलर्ट हैं यानि खतरे की घंटी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण करने के लिए गोरखपुर पहुंचे थे यहां उन्होंने एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री ने साफ तौर पर कह दिया कि यह लाल टोपी वाले उत्तर प्रदेश के लिए रेड अलर्ट हैं, इन्हें सिर्फ लाल बत्ती से मतलब है। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज पूरा यूपी भली-भांती जानता है कि लाल टोपी वालों को लाल बत्ती से मतलब रहा है, आपकी दुख-तकलीफों से नहीं। लाल टोपी वालों को सत्ता चाहिए, घोटालों के लिए, अपनी तिजोरी भरने के लिए, अवैध कब्जों के लिए, माफियाओं को खुली छूट देने के लिए।

मोदी ने कहा कि लाल टोपी वालों को सरकार बनानी है, आतंकवादियों पर मेहरबानी दिखाने के लिए, आतंकियों को जेल से छुड़ाने के लिए। और इसलिए, याद रखिए, लाल टोपी वाले यूपी के लिए रेड अलर्ट हैं यानि खतरे की घंटी। उन्होंने कहा कि आज हमारी सरकार ने सरकारी गोदाम गरीबों के लिए खोल दिए हैं और योगी जी हर घर अन्न पहुंचाने में जुटे हैं। इसका लाभ यूपी के लगभग 15 करोड़ लोगों को हो रहा है। हाल ही में पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना को, होली से आगे तक के लिए बढ़ा दिया गया है। 

विपक्ष पर हमला जारी रखते हुए मोदी ने कहा कि पहले की सरकारों ने अपराधियों को संरक्षण देकर यूपी का नाम बदनाम कर दिया था। आज माफिया जेल में हैं और निवेशक दिल खोल कर यूपी में निवेश कर रहे हैं। यही डबल इंजन का डबल विकास है। इसलिए डबल इंजन की सरकार पर यूपी को विश्वास है। उन्होंने कहा कि सब जानते थे कि गोरखपुर में एम्स की मांग बरसों से हो रही थी। लेकिन 2017 से पहले जो सरकार चला रहे थे, उन्होंने एम्स के लिए जमीन देने में हर तरह के बहाने बनाए। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...