PM मोदी ने 70 साल की पूंजी को बेच दिया, युवाओं के हाथों से छीना रोजगार: राहुल गांधी

Rahul Gandhi
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सबकुछ बेच दिया। मैं हिन्दुस्तान के युवाओं से कहना चाहता हूं कि आप लोगों के हाथ से रोजगार छीना गया। कोरोना में आप लोगोंं की मदद नहीं की गई।

नयी दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। इस दौरान राहुल गांधी के साथ पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल मौजूद रहे। राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी और भाजपा के एक नारा था कि 70 साल में कुछ नहीं हुआ। लेकिन बीते दिनों वित्त मंत्री ने 70 साल में जो पूंजी बनी थी उसको बेचने का निर्णय लिया। 

इसे भी पढ़ें: राहुल की चौखट पर पहुंचा छत्तीसगढ़ कांग्रेस का घमासान, सुलह की कोशिशों के बीच 3 घंटे तक चली बैठक 

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सबकुछ बेच दिया। मैं हिन्दुस्तान के युवाओं से कहना चाहता हूं कि आप लोगों के हाथ से रोजगार छीना गया। कोरोना में आप लोगोंं की मदद नहीं की गई। आपके जो किसान माता-पिता है, उनके लिए 3 विशेष कानून बनाए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अपने मित्रों को हिन्दुस्तान की संपत्ति बेच रहे हैं।

कांग्रेस नेता ने कहा कि सारे के सारे निजीकरण एकाधिकार बनाने के लिए किए जा रहे हैं। पावर, टेलीकॉम, वेयर हाउसिंग, माइनिंग, एयरपोर्ट, पोर्ट्स ये सब एकाधिकार बनाने के लिए किया जा रहा है। आप जानते हो पोर्ट्स किसके हाथ में हैं, एयरपोर्ट किसको मिल रहे हैं।  

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस में अमरिंदर सिंह के खिलाफ बगावत तेज, 30 विधायक CM बदलने की कर रहे मांग 

उन्होंने कहा कि जैसे ही एकाधिकार बनता जाएगा उसी तेज़ी से आपको रोज़गार मिलना बंद हो जाएगा। इस देश में जो छोटे और मध्यम व्यवसाय हैं जो कल आपको रोजगार देंगे वो सब बंद हो जाएंगे, खत्म हो जाएंगे। 3-4 व्यवसाय रहेंगे इनको रोजगार देने की कोई जरूरत नहीं रहेगी।

युवाओं पर हो रहा आक्रमण

राहुल गांधी ने कहा कि हिन्दुस्तान की पूंजी बेची जा रही है, ये आपके भविष्य पर आक्रमण है। नरेंद्र मोदी जी अपने 2-3 उद्योगपति मित्रों के साथ हिन्दुस्तान के युवा पर आक्रमण कर रहे हैं, इसे आप अच्छी तरह समझिए।  

इसे भी पढ़ें: BMC चुनाव: क्या सोनू सूद, मिलिंद सोमन और रितेश देशमुख को बनाया जाएगा मेयर उम्मीदवार ? कांग्रेस में मंथन शुरू 

गौरतलब है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 6 लाख करोड़ रुपए की राष्ट्रीय मौद्रिकरण योजना की घोषणा की। जिसके तहत रेलवे, बिजली से लेकर सड़क जैसे अलग अलग बुनियादी ढांचा क्षेत्रों में संपत्तियों का मौद्रिकरण किया जाएगा।

यहां सुनिए पूरी प्रेस कॉन्फ्रेंस:- 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़