छत्तीसगढ़ के बस्तर में मतदान सम्पन्न, 57 फीसदी लोगों ने किया मताधिकार का इस्तेमाल

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 11 2019 8:01PM
छत्तीसगढ़ के बस्तर में मतदान सम्पन्न, 57 फीसदी लोगों ने किया मताधिकार का इस्तेमाल
Image Source: Google

इस संसदीय सीट के अंतर्गत विधानसभा क्षेत्र कोंटा, दन्तेवाड़ा, बीजापुर और नारायणपुर में सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक मतदान हुआ।

रायपुर/बस्तर। लोकसभा चुनाव में प्रथम चरण के तहत छत्तीसगढ़ की बस्तर सीट पर मतदान बृहस्पतिवार शाम पांच बजे समाप्त हो गया। लगभग 57 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। साथ ही, नारायणपुर जिले के हरिमरका गांव के निवासियों ने आजादी के बाद पहली बार मतदान किया। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि कड़ी सुरक्षा के बीच सुबह सात बजे बस्तर लोकसभा सीट के लिए मतदान प्रारंभ हुआ। इस संसदीय सीट के अंतर्गत विधानसभा क्षेत्र कोंटा, दन्तेवाड़ा, बीजापुर और नारायणपुर में सुबह सात बजे से दोपहर तीन बजे तक मतदान हुआ। वहीं विधानसभा क्षेत्र बस्तर, चित्रकोट, कोण्डागांव और जगदलपुर में शाम पांच बजे तक मतदान हुआ। 

इसे भी पढ़ें: कनखल में बाबा रामदेव ने डाला मतदान, PM के व्यक्तित्व को हिमालय जैसा बताया

अधिकारियों ने बताया कि बस्तर क्षेत्र के लगभग 57 फीसदी मतदाताओं ने वोट डाले। मतदान समाप्त होने के बाद कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान दलों को वहां से वापस ले जाने का कार्य किया जा रहा है। अंदरूनी इलाकों से ताजा जानकारी मिलने के बाद मतदान प्रतिशत में बढ़ोतरी हो सकती है। उन्होंने बताया कि सुबह मतदान प्रारंभ होने के बाद मतदान केंद्रों पर लोगों की लंबी कतारें देखी गई। इनमें महिलाएं भी बड़ी संख्या में थी। बस्तर लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी बैदूराम कश्यप, कांग्रेस प्रत्याशी दीपक बैज, राज्य की भूपेश सरकार में मंत्री कवासी लखमा, पूर्व मंत्री केदार कश्यप और दंतेवाड़ा नक्सली हमले में मृत विधायक भीमा मंडावी के परिजनों समेत बस्तर क्षेत्र के अन्य नेताओं ने भी वोट डाले। 

अधिकारियों ने बताया कि नारायणपुर जिले के हरिमरका गांव के निवासियों ने आजादी के बाद पहली बार मतदान किया। इन्होंने करीब के कुंदला गांव के मतदान केंद्र पर मताधिकार का प्रयोग किया। वहीं दंतेवाड़ा जिले के श्यामगिरी में भी मतदाताओं ने बढ़ चढ़कर मतदान में हिस्सा लिया। श्यामगिरी में नक्सलियों ने मंगलवार को बारूदी सुरंग में विस्फोट किया था जिसमें भाजपा विधायक भीमा मंडावी, वाहन चालक और तीन सुरक्षा कर्मियों की मृत्यु हो गई थी। नक्सलियों ने अपने प्रभाव वाले इलाकों में चुनाव बहिष्कार की घोषणा की तथा मतदान दलों को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की। आज सुबह नक्सलियों ने नारायणपुर जिले में मतदान दलों को नुकसान पहुंचाने के लिए बारूदी सुरंग में विस्फोट किया था। लेकिन इस घटना में कोई भी हताहत नहीं हुआ है। वहीं सुकमा जिले में दोरनापाल से जगरगुंडा मार्ग पर नक्सलियों ने पेड़ काटकर मार्ग अवरूध्द करने की कोशिश की, जिसे सुरक्षा बलों हटाकर आवागमन शुरू कराया। 

इसे भी पढ़ें: बिहार में आधे मतदाताओं ने किया अपने मताधिकार का प्रयोग



बस्तर लोकसभा क्षेत्र में कुल 13,72,127 मतदाता हैं जो इस सीट के सात उम्मीदवारों के चुनावी भविष्य का फैसला कर रहे हैं। क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान के लिए लगभग 80 हजार जवानों को तैनात किया गया। बस्तर लोकसभा सीट पर मुख्य मुकाबला कांग्रेस के दीपक बैज और भाजपा के बैदूराम कश्यप के बीच ही होने की संभावना है। छत्तीसगढ़ की 11 लोकसभा सीटों के लिए तीन चरणों में मतदान होगा। पहले चरण में आज बस्तर लोकसभा सीट के लिए मतदान हो रहा है। वहीं दूसरे चरण में 18 अप्रैल को कांकेर, राजनांदगांव और महासमुंद लोकसभा सीट के लिए तथा तीसरे चरण में 23 अप्रैल को रायपुर, बिलासपुर, रायगढ़, कोरबा, जांजगीर चांपा, दुर्ग और सरगुजा लोकसभा सीट के लिए मतदान होगा।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video