• प्रशांत किशोर ने कैप्टन अमरिन्दर सिंह के प्रमुख सलाहकार पद से इस्तीफा दिया

 पंजाब की राजनीति में आज घटे एक महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाक्रम में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के प्रमुख सलाहकार पद आज से मशहूर चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने इस्तीफा दे दिया।   उन्होंने कैप्टन से इस्तीफा मंजूर करने का अनुरोध करते हुये कहा कि वह सार्वजनिक जीवन में सक्रिय भूमिका से अस्थायी अवकाश लेने जा रहे हैं

चंडीगढ , 05 अगस्त  पंजाब की राजनीति में आज घटे एक महत्वपूर्ण राजनीतिक घटनाक्रम में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के प्रमुख सलाहकार पद आज से मशहूर चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने इस्तीफा दे दिया। 

    उन्होंने कैप्टन से इस्तीफा मंजूर करने का अनुरोध करते हुये कहा कि वह सार्वजनिक जीवन में सक्रिय भूमिका से अस्थायी अवकाश लेने जा रहे हैं व सीएम के प्रधान सलाहकार के रूप में जिम्मेदारियों को संभालने में सक्षम नहीं हैं। 

प्रशांत किशोर ने यह इस्तीफा ऐसे वक्त में दिया है, जब अगले साल पंजाब में विधानसभा चुनाव है। उनको लेकर पंजाब की राजनीति में भी कुछ लोग अपने आपको असहज महसूस कर रहे थे। व उनकी कैप्टन से नजदीकी उन्हें रास नहीं आ रही थी 

इसी साल एक मार्च को प्रशांत किशोर अमरिंदर सिंह के प्रिंसिपल एडवाइजर बने थे और उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिला था।

प्रशांत किशोर ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के प्रमुख सलाहकार के पद से यह कहते हुए इस्तीफा दे दिया कि उन्होंने सार्वजनिक जीवन में सक्रिय भूमिका से अस्थायी ब्रेक लेने का फैसला किया है। 

बता दें कि ऐसी अटकलें हैं कि प्रशांत किशोर कांग्रेस का हाथ थाम सकते हैं, जिसे लेकर राहुल गांधी ने कई बैठकें भी की हैं। कैप्टन को संबोधित अपने पत्र में प्रशांत किशोर ने लिखा, ’जैसा कि आप जानते हैं सार्वजनिक जीवन में सक्रिय भूमिका से अस्थायी अवकाश लेने के मेरे निर्णय के मद्देनजर, मैं आपके प्रधान सलाहकार के रूप में जिम्मेदारियों को संभालने में सक्षम नहीं हूं। चूंकि मुझे अभी अपने भविष्य के कार्य के बारे में निर्णय लेना है, इसलिए मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि कृपया मुझे इस जिम्मेदारी से मुक्त करने की कृपा करें। इस पद के लिए मुझे चुनने और अवसर देने के लिए मैं आपको धन्यवाद देता हूं।’

दरअसल, प्रशांत किशोर ने साल 2017 में पंजाब विधानसभा के दौरान कांग्रेस के चुनाव अभियान की कमान संभाली थी। हाल ही में प्रशांत किशोर की कंपनी, इंडियन पालिटिकल एक्शन कमेटी (आई-पीएसी) ने पश्चिम बंगाल चुनाव में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल जीत दिलवाने में मदद की है। प्रशांत किशोर ने वर्ष 2014 के आम चुनाव में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री पद के लिए अभियान की कमान संभाली थी।