• राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पहुंचे अपने गांव परौंख, जन्मभूमि को नमन कर माथे पर लगाई मिट्टी

सीएम आदित्यनाथ ने राष्ट्रपति कोविंद का उनके पैतृक गांव परौंख में स्वागत किया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कानपुर देहात के परौंख गांव में जन अभिनंदन समारोह में हिस्सा लिया। इस समारोह में उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी हिस्सा लिया।

कानपुर (उप्र)। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार सुबह कानपुर देहात जिले के परौंख गांव में अपने जन्म स्थान पहुंचे, जहां उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने उनका स्वागत किया। पुलिस अधीक्षक के जन संपर्क अधिकारी ने बताया कि पटेल और आदित्यनाथ ने राष्ट्रपति कोविंद का उनके पैतृक गांव परौंख में स्वागत किया। 

हेलीपैड पर उतरकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपनी जन्मभूमि पर नतमस्तक होकर मिट्टी को स्पर्श किया। इसके बाद राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कानपुर देहात के परौंख गांव में जन अभिनंदन समारोह में हिस्सा लिया। इस समारोह में उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी हिस्सा लिया। इस समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि, मैंने सपने में भी कभी कल्पना नहीं की थी कि गांव के मेरे जैसे एक सामान्य बालक को देश के सर्वोच्च पद के दायित्व-निर्वहन का सौभाग्य मिलेगा। लेकिन हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था ने यह कर के दिखा दिया।

इसे भी पढ़ें: तीन दिवसीय दौरे पर लद्दाख पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सुरक्षा तैयारियों की करेंगे समीक्षा

कोविंद अपनी पत्नी और बेटी के साथ पथरी देवी मंदिर गए, जहां उन्होंने पूजा-अर्चना की। कोविंद ने पटेल और आदित्यनाथ के साथ परौंख गांव का दौरा किया। कोविंद परौंख गांव के प्राथमिक स्कूल पहुंचे, जहां वे लोगों को संबोधित करेंगे। कोविंद अपने पुराने परिचितों, विधायकों और भाजपा अधिकारियों सहित जनप्रतिनिधियों से भी बातचीत करेंगे। कोविंद पुखरायां जाएंगे, जहां वह 60 से अधिक लोगों से मुलाकात करेंगे।