संविधान दिवस पर राष्ट्रपति ने स्मारक सिक्के और डाक टिकट का विमोचन,प्रदर्शनी का उद्घाटन किया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2019   14:45
संविधान दिवस पर राष्ट्रपति ने स्मारक सिक्के और डाक टिकट का विमोचन,प्रदर्शनी का उद्घाटन किया

उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने ‘‘भारतीय संसदीय लोकतंत्र में राज्यसभा की भूमिका’’ नामक पुस्तक को जारी किया और इसकी पहली प्रति राष्ट्रपति कोविंद को भेंट की।

नयी दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को संविधान दिवस के अवसर पर 250 रुपये के स्मारक सिक्के और एक विशेष डाक टिकट को जारी किया, वहीं उन्होंने राष्ट्रीय युवा संसद योजना के पोर्टल और संसद भवन के पुस्तकालय में आयोजित प्रदर्शनी का उद्घाटन भी किया।संसद के केंद्रीय कक्ष में संविधान को अंगीकार किये जाने के 70 साल पूरे होने के मौके पर लोकसभा और राज्यसभा की संयुक्त बैठक को संबोधित करने से पहले उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने ‘‘भारतीय संसदीय लोकतंत्र में राज्यसभा की भूमिका’’ नामक पुस्तक को जारी किया और इसकी पहली प्रति राष्ट्रपति कोविंद को भेंट की।

इसे भी पढ़ें: संविधान दिवस पर बोले महामहिम, हर परिस्थिति के लिये संविधान सम्मत रास्ते उपलब्ध

उन्होंने इस मौके पर संसद भवन के पुस्तकालय भवन में आयोजित प्रदर्शनी का उद्घाटन किया। जिसमें संविधान के निर्माण से लेकर उसके 70 साल की यात्रा की जानकारी जनप्रतिनिधि एवं अन्य लोग उठा सकेंगे। कोविंद ने रिमोट का बटन दबाकर राष्ट्रीय युवा संसद योजना के पोर्टल की शुरुआत की।इस अवसर पर राज्यसभा के महासचिव देशदीपक वर्मा ने कहा कि राज्यसभा के 250वें सत्र के दौरान 250 रुपये का स्मारक सिक्का जारी किया जा रहा है। यह सिक्का 40 ग्राम वजनी और 44 मिलीमीटर परिधि का है। इसमें अशोक स्तंभ और संसद भवन के चित्रों के साथ ही गांधीजी की तस्वीर है और सत्यमेव जयते लिखा है। मंगलवार को ही जारी किये गये वृत्ताकार डाक टिकट पर संसद के स्थापत्य की जालीनुमा आकृतियों और संसद भवन का चित्र है। राष्ट्रपति कोविंद ने लोकसभा का 2020 का कलैंडर भी इस मौके पर जारी किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।