प्रधानमंत्री ने ‘मन की बात’ में पशु, पक्षियों के लिए पानी सुनिश्चित करने के प्रयास का जिक्र किया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 27, 2022   23:25
प्रधानमंत्री ने ‘मन की बात’ में पशु, पक्षियों के लिए पानी सुनिश्चित करने के प्रयास का जिक्र किया

प्रधानमंत्री केरल के एर्नाकुलम जिले में अलुवा के पास मुपट्टम के श्रीमन नारायणन के बारे में बात कर रहे थे, जो अपने ‘जीवा जलथिनु ओरु मनपथरम’ (पानी के लिए मिट्टी के बर्तन) अभियान के तहत मुफ्त में बर्तन वितरित करते हैं ताकि पशु-पक्षी प्यासे ना रह जाएं।

तिरुवनंतपुरम|  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेडियो के माध्यम से प्रसारित होने वाले मासिक ‘मन की बात’ कार्यक्रम में करीब एक लाख मिट्टी के बर्तन बांटकर पशु-पक्षियों के लिए पानी सुनिश्चित करने के केरल के एक व्यक्ति के प्रयासों का उल्लेख किया।

प्रधानमंत्री केरल के एर्नाकुलम जिले में अलुवा के पास मुपट्टम के श्रीमन नारायणन के बारे में बात कर रहे थे, जो अपने ‘जीवा जलथिनु ओरु मनपथरम’ (पानी के लिए मिट्टी के बर्तन) अभियान के तहत मुफ्त में बर्तन वितरित करते हैं ताकि पशु-पक्षी प्यासे ना रह जाएं।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘आज जब गर्मी के मौसम ने दस्तक दे दी है, तो नारायणन जी का यह काम हम सब को जरूर प्रेरित करेगा और हम भी इस गर्मी में हमारे पशु-पक्षी मित्रों के लिए पानी की व्यवस्था करेंगे।’’

नारायणन ने एक समाचार चैनल से कहा कि उन्हें यह सुनकर बहुत खुशी हुई कि प्रधानमंत्री ने केरलवासियों के बारे में बात की, इससे वह प्रयास जारी रखने के लिए और प्रोत्साहित होंगे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने नारायणन के घर जाकर उनके कार्यों की प्रशंसा की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।