कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा के राष्ट्रवाद पर साधा निशाना

priyanka-gandhi-vadra-hits-out-at-pm-modi-over-nationalism
प्रियंका ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना की बहुत चर्चा करते हैं। इस योजना के नाम पर प्रति व्यक्ति प्रति दिन साढ़े तीन रूपये देकर भाजपा सरकार वास्तव में किसानों का अपमान कर रही है।

बहराइच/अमेठी। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा के राष्ट्रवाद पर सवाल उठाते हुए रविवार को कहा कि जनता की आवाज को सुनकर उनकी समस्याओं को सुलझाना ही सबसे बड़ा राष्ट्रवाद है। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि उन्हें नहीं पता कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किस जाति के हैं। कांग्रेस इस लोकसभा चुनाव में सिर्फ और सिर्फ विकास के मुद्दे को ही उठा रही है। प्रियंका अमेठी के दौरे के दौरान क्षेत्र के गांवों की यात्रा पर निकली थीं। संवाददाताओं ने राष्ट्रवाद के मुद्दे पर चुनाव लड़ने के भाजपा के दावे के बारे में उनसे सवाल पूछे। इस पर उन्होंने कहा, पता नहीं यह कौन सा राष्ट्रवाद है ?राष्ट्रवाद का क्या मतलब है...इसका मतलब है- देशभक्ति और देशप्रेम। देश कौन है...देश की जनता और उसका प्रेम है। अगर आपको सिर्फ अपना ही मोह है तो यह कैसा राष्ट्रवाद है? 

इसे भी पढ़ें: कौन बिहारी किसपर भारी- इन 5 सीटों पर है महामुकाबला

बहराइच में उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा वाले पाकिस्तान और राष्ट्रवाद की बात करते हैं। दूसरी ओर, कुछ (कांग्रेस) नेता आपकी समस्याओं को सुलझाने की बात करते हैं। मेरी समझ में सबसे बड़ा राष्ट्रवाद जनता की आवाज को सुनकर उनकी समस्याओं को सुलझाना है। प्रधानमंत्री मोदी की जाति को लेकर उठ रहे सवालों के बारे में पूछे जाने पर प्रियंका ने कहा  मुझे आज तक नहीं मालूम प्रधानमंत्री किस जाति के हैं। जहां तक कांग्रेस का सवाल है तो उसने कभी मोदी पर कोई व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं की। विपक्ष, खासतौर से कांग्रेस के नेता इस चुनाव में सिर्फ विकास का मुद्दा उठा रहे हैं। वे मुद्दे हैं- रोजगार के,किसानों के भलाई के और गरीबों के कल्याण के। कांग्रेस महासचिव ने मोदी की रैलियों में भीड़ उमड़ने पर कहा कि पैसे के बलबूते जीप और बसों में भरकर लाखों की भीड़ इकट्ठा करके उनके सामने भाषण देना या प्रचार वाले संदेश देना बहुत आसान है। मगर लोगों की समस्याओं को हल करना ही असली बात है। उन्होंने कहा कि जमीन पर सचाई बिल्कुल अलग है। जब आप लोगों से मिलेंगे, लोगों से बातचीत करेंगे तो उससे दूसरा संदेश निकलता है। वह संदेश मैंने ना तो कभी प्रधानमंत्री जी और ना ही भाजपा के नेताओं द्वारा ग्रहण करते हुए देखा। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि भाजपा सरकार की सभी योजनाएं जनता को दुर्बल बनाने और सरकार तथा पार्टी के नेताओं एवं उनके कुछ उद्योगपति दोस्तों को मजबूत बनाने की नीयत से बनाई गई हैं।

इसे भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल के चौथे चरण के चुनाव में दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

प्रियंका ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना की बहुत चर्चा करते हैं। इस योजना के नाम पर प्रति व्यक्ति प्रति दिन साढ़े तीन रूपये देकर भाजपा सरकार वास्तव में किसानों का अपमान कर रही है। दरअसल, यह किसान अपमान योजना  है। दूसरी ओर, कांग्रेस पार्टी ने प्रति वर्ष के बजाय प्रतिमाह छह हजार रूपये देने की घोषणा की है। प्रियंका ने कहा कि किसानों से प्रति माह कुछ पैसे लेकर बनाई गई किसान बीमा योजना से वास्तव में किसानों को विपत्ति आने पर सरकार की घोषणा तथा अपेक्षा के अनुरुप मदद नहीं मिल पाती जबकि इस योजना से कुछ उद्योगपतियों को दस हजार करोड़ रूपये का फायदा हुआ है। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि आपने प्रधानमंत्री मोदी को हमेशा बड़े मंचों पर अथवा दूसरे देशों के राष्ट्रपतियों के साथ या बड़े उद्योगपतियों के साथ ही देखा होगा। मुझे आश्चर्य हुआ कि मोदी अपने चुनाव क्षेत्र वाराणसी में एक भी गांव में नहीं गये। प्रियंका ने आरोप लगाया कि भाजपा द्वारा संविधान को खत्म करने की कोशिश की जा रही है तथा संस्थाओं और लोकतंत्र को दुर्बल बनाया जा रहा है। उन्होंने अपने भाषण में बहराइच में हर साल आने वाली बाढ़ तथा घाघरा नदी की कटान सरीखी स्थानीय, मगर बड़ी समस्याओं का भी जिक्र किया और सरकार बनने पर गंभीरता से विचार कर मुद्दों को सुलझाने की बात कही।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़