amazon व flipkart पर Online बिकेंगे स्वयं सहायता समूहों के उत्पाद: क्षेत्रीय मेले के समापन पर बोले ग्रामीण विकास मंत्री

amazon व  flipkart पर Online  बिकेंगे स्वयं सहायता समूहों के उत्पाद:  क्षेत्रीय मेले के समापन पर बोले ग्रामीण विकास मंत्री

ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों की प्रदर्शनी एवं बिक्री हेतु ग्र्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग द्वारा लगाए गए क्षेत्रीय मेले के समापन अवसर पर यह बात वीरेन्द्र कंवर ने कही। इस 8 दिवसीय मेले के दौरान हिमाचल के विभिन्न जिलों से 50 स्वयं सहायता समूहों ने स्वनिर्मित उत्पादों का प्रदर्शन किया व विक्रय किया।

ऊना।    ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, कृषि, मत्स्य व पशुपालन मंत्री वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि कि स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों को आॅनलाईन प्लेटफार्म पर बेचने की तैयारी चल रही है। उन्होंने कहा कि एमेज़ोन और फ्लिपकार्ट के माध्यम स्वयं सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पाद बेचे जाएंगे जिससे उनको अपने उत्पादों को बेचने के लिए उचित मंच मिल सके।

 

 

ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायता समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों की प्रदर्शनी एवं बिक्री हेतु ग्र्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग द्वारा लगाए गए क्षेत्रीय मेले के समापन अवसर पर यह बात वीरेन्द्र कंवर ने कही। 18 से 25 सितम्बर तक चले इस 8 दिवसीय मेले के दौरान हिमाचल के विभिन्न जिलों से 50 स्वयं सहायता समूहों ने स्वनिर्मित उत्पादों का प्रदर्शन किया व विक्रय किया। समापन समारोह मंे छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती भी विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। 

 

इसे भी पढ़ें: गरीबों के लिये सबसे बड़ी योजना ‘अन्त्योदय अन्न योजना’ अटल जी के जन्म दिवस पर मैंने ही शुरू करवाई थी-- शान्ता कुमार

 

समापन समारोह की अध्यक्षता करते हुए वीरेन्द्र कंवर ने कहा कि हिमाचल में वर्तमान में 40 हजार से अधिक स्वयं सहायता समूह हैं जिनमें से 17 हजार के करीब उत्पादन गतिविधियों से जुडे़ हैं। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही हिमाचल प्रदेश में हिम ईरा ब्रांड की 100 से अधिक दुकानें राज्य के विभिन्न स्थानों पर मुख्य सड़क मार्गों पर खोली जाएंगी। उन्होंने कहा कि इन उत्पादों को बड़े स्तर पर विक्रय करने के लिए ऑनलाइन माध्यम से भी जोड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि इस मेले का मुख्य उद्देश्य स्वयं सहायता समूहों को उनके द्वारा निर्मित उत्पादनों को एक मंच देने के साथ वोकल फाॅर लोकल को बढ़ावा देना है।

उन्होंने कहा कि ऊना के लोकल उत्पादों को सोमभद्रा ब्रांड का नाम दिया गया है तथा इनकी बढ़िया पैकिंग के लिए सामग्री डीआरडीए के माध्यम से मुहैय्या करवाई जा रही है। इसके अलावा बिक्री को बढ़ावा देने के लिए डीआरडीए के माध्यम से बौल में एक शक्ति केंद्र भी खोला गया है। कृषि मंत्री ने महिला समूहों से आहवान किया कि स्थानीय स्तर पर महिलाएं संगठित होकर अपनी आर्थिकी को सुदृढ़ कर सकती हंै जिसके लिए सरकार उन्हंे मंच भी प्रदान कर रही है। 

इसे भी पढ़ें: अपनी लापरवाही का ठीकरा भाजपा के सिर फोड़ रही कांग्रेसःउद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर

मेले में महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा निर्मित तेल, सेवइयां, बडियां, सिरका, शहद, पापड़, मसाले, चटनी, जैम, आचार, मिठाई, हल्दी व जूते सहित बांस के उत्पादों की बिक्री की गई।  इससे पूर्व उपायुक्त राघव शर्मा द्वारा मुख्यातिथियों का स्वागत किया गया।  इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त डाॅ अमित कुमार शर्मा, जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल शर्मा, जिला परिषद् उपाध्यक्ष कृष्ण पाल शर्मा, मण्डलाध्यक्ष कुटलैहड़ मास्टर तरसेम,  पीओ डीआरडीए संजीव ठाकुर, उपनिदेशक पशुपालन डाॅ. जय सिंह सेन, जिला पंचायत अधिकारी सरवण कुमार, बीडीओ ऊना रमनवीर सिंह चैहान सहित अन्य अधिकारी व स्थानीय लोग उपस्थित रहे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...