पुलवामा हमले के बाद मोदी ने नहीं निभाया राजधर्म, कर रहे थे शूटिंग: कांग्रेस

पुलवामा हमले के बाद मोदी ने नहीं निभाया राजधर्म, कर रहे थे शूटिंग: कांग्रेस

पुलवामा आतंकवादी हमले को लेकर कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि प्रधानमंत्री एनएसए चीफ अजीत डोभाल और गृहमंत्री राजनाथ सिंह की विफलताओं को क्यों स्वीकार नहीं कर रहे।

नई दिल्ली। पुलवामा आतंकवादी हमले को लेकर कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक के बाद एक कई बड़े आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि जब पूरा देश पुलवामा में हमारे शहीदों की शहादत के सदमे से जूझ रहा था तब पीएम मोदी जी रामनगर नैनीताल में कार्बेट नेशनल पार्क में अपने प्रचार वाली फिल्म की शूटिंग कर रहे थे। उन्होंने आगे कहा कि शहीदों और शहादत के अपमान का जो उदाहरण मोदी जी ने पेश किया वैसा कोई उदाहरण पूरी दुनिया में नहीं है। 

इसी के साथ सुरजेवाला ने कहा कि प्रधानमंत्री एनएसए चीफ अजीत डोभाल और गृहमंत्री राजनाथ सिंह की विफलताओं को क्यों स्वीकार नहीं कर रहे। बता दें कि पुलवामा में हुए फिदायीन हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। जिसके बाद रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्विटर के जरिए वीडियो जारी करके प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा था, जिसके बाद वह ट्रोल हो गए थे।

इसे भी पढ़ें: पुलवामा आतंकी हमले की कांग्रेस ने की निंदा, मोदी सरकार पर निशाना साधा

जिसके बाद अब पुलवामा हमले को लेकर सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए सरकार से पांच सवाल पूछे। 

1- प्रधानमंत्री जी आप अपनी, अपने एनएसए और गृह मंत्री की विफलता को स्वीकार क्यों नहीं कर सकते? 

2- आतंकियों को RDX कैसे मिला?

3- हमले के 48 घंटे पहले आतंकी के वीडियों को क्यों नजर अंदाज किया गया?

4- सुरक्षाकर्मियों को हवाई रास्ते से क्यों नहीं ले जाया गया?

5- 56 महीनों में अकेले जम्मू-कश्मीर में हमारे 488 जवान शहीद हुए हैं, ऐसा क्यों ?

इसे भी पढ़ें: मसूद अजहर पर प्रतिबंध का विरोध नहीं, आतंक में शामिल हर व्यक्ति आतंकवादी घोषित हो

सवालों के साथ ही कांग्रेस ने कहा कि जब देश में इतना बड़ा हमला हुआ है तो प्रधानमंत्री विदेश दौरे पर क्यों चले गए? बता दें कि सुरजेवाला ने एक दिन के राष्ट्रीय शोक की बात करते हुए भी प्रधानमंत्री को निशाने पर लिया। इसके अलावा राजनीति का आरोप लगाते हुए कहा कि हमले के प्रति मोदी सरकार न तो कोई राजनीतिक जवाब दे रही, न ही अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रही। इसी के साथ सुरजेवाला ने मुंबई हमलों का जिक्र करते हुए कहा कि 28/11 को जब हमारी सेना आतंकियों को साफ करने में लगी थी, तब भाजपा अखबार में रक्तरंजित इश्तिहार देने में लगी थी। 2014 तक हर बार मोदी जी ने चुनाव तक मुंबई हमलों पर अपनी राजनीति को जारी रखा। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...